गंभीरता से लें नहीं तो गंभीर हो जाएगी स्थिति!

Updated Date: Thu, 26 Apr 2018 07:00 AM (IST)

i exclusive

इविवि प्रशासन ने नगर में, कैम्पस व छात्रावासों में उपद्रव की जताई आशंका

डीन विद्यार्थी कल्याण के साथ अनहोनी की आशंका

vikash.gupta@inext.co.in

ALLAHABAD: हॉस्टल्स के वॉश आउट का कोई प्रोग्राम फिलहाल नहीं है। किसी को इस संबंध में नोटिस भी नहीं दी गयी है। इसके बाद भी इलाहाबाद यूनिवर्सिटी प्रिमाइस और उसके बाहर छात्रों के नाम पर कुछ अराजक तत्व सक्रिय हैं। यह तत्व माहौल खराब करने की कोशिश कर सकते हैं। यूनिवर्सिटी कैंपस के साथ बाहर भी इसका इम्पैक्ट जा सकता है। यह रिपोर्ट है इलाहाबाद यूनिवर्सिटी एडमिनिस्ट्रेशन की। विवि प्रशासन ने कमिश्नर, डीएम और एसएसपी को पत्र भेजकर इन तथ्यों को डिस्क्लोज किया है। चीफ प्रॉक्टर प्रो। आरएस दुबे की ओर से भेजे गए पत्र में कुलानुशासक और डीन विद्यार्थी कल्याण प्रो। हर्ष कुमार के साथ किसी अप्रिय घटना होने का भी संकेत दिया गया है। गुजारिश की गई है कि मौजूदा हालात को जिला प्रशासन और पुलिस गंभीरता से ले और इसमें शामिल अपराधियों की भूमिका की सख्ती से जांच करे।

छात्रसंघ ने की थी अगुवाई

गौरतलब है कि विवि में बीते दिनो हास्टल वॉशआउट की भनक लगने पर छात्रसंघ पदाधिकारियों की अगुवाई में छात्रों ने कैम्पस में उग्र प्रदर्शन किया था। उस वक्त विवि प्रशासन के अधिकारियों ने सूझ-बूझ से मामले को शान्त करा दिया था। अब चीफ प्रॉक्टर ने जिले के वरिष्ठ अधिकारियों को पत्र लिखकर खतरे की आशंका जाहिर कर दी है। उन्होंने भेजे गए पत्र में लिखित तौर पर कहा है कि हास्टल वॉशआउट का कोई भी प्रस्ताव विवि प्रशासन द्वारा अभी तैयार नहीं किया गया है।

चेक करें इनका रोल

अवनीश कुमार यादव पुत्र विन्देश्वरी यादव, अध्यक्ष, छात्रसंघ

चन्द्रशेखर चौधरी पुत्र खेमचन्द्र, उपाध्यक्ष छात्र संघ

निर्भय द्विवेदी पुत्र दिनेश कुमार द्विवेदी, महामंत्री छात्रसंघ

अवनीश राय मानस, छात्र नेता

आधी रात हंगामे की करवाएं जांच

चीफ प्रॉक्टर ने लिखित तौर पर कहा है कि वॉश आउट जैसी कोई घोषणा न होने के बावजूद हजारों की संख्या में छात्रों ने पिछले दिनों आधी रात सड़क पर उतरकर एवं कैम्पस में जबरन हंगामा किया था। इसमें छात्र संघ के पदाधिकारी भी शामिल थे। लेटर में उन्होंने सूचित किया है कि इस आन्दोलन में अराजक तत्वों एवं अपराधियों की सक्रिय भूमिका है। जिसकी जांच आवश्यक है।

इन्हें भी दी गई जानकारी

अपर जिलाधिकारी नगर

पुलिस अधीक्षक नगर

नगर मजिस्ट्रेट

अपर नगर मजिस्ट्रेट प्रथम

क्षेत्राधिकारी नगर चतुर्थ

प्रभारी निरीक्षक थाना कर्नलगंज

चौकी प्रभारी इविवि

इविवि कुलपति

इलाहाबाद हाईकोर्ट के 17 अप्रैल 2017 को याचिका संख्या 13,688, धर्मवीर सिंह बनाम इलाहाबाद विवि व अन्य में पारित आदेश के क्रम में पिछले साल ग्रीष्मावकाश में सभी छात्रावासों को खाली करवाया गया था। इस बार अभी तक ऐसी कोई घोषणा नहीं की गयी। बावजूद इसके अराजकता की गयी। इस बार भी पिछले वर्ष की तरह नगर में भारी उपद्रव तथा छात्रावासों में फर्नीचर आदि नष्ट किये जाने की आशंका है।

प्रो। आरएस दुबे,

चीफ प्रॉक्टर एयू

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.