मुख्य सचिव बोले BDO परीक्षा में सॉल्वर गैंगों पर रखें विशेष नजर गड़बड़ी पर डीएम होंगे जिम्मेदार

2018-12-20T10:58:20Z

मुख्य सचिव ने ग्राम पंचायत अधिकारी ग्राम विकास अधिकारी समाज कल्याण पर्यवेक्षक प्रतियोगितात्मक परीक्षा2018 को संपन्न कराने के लिए कुछ खास निर्देश दिए हैं।

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: ग्राम पंचायत अधिकारी, ग्राम विकास अधिकारी (समाज कल्याण), समाज कल्याण पर्यवेक्षक (सामान्य चयन) प्रतियोगितात्मक परीक्षा-2018 को संपन्न कराने के लिए मुख्य सचिव डॉक्टर अनूप चंद्र पांडे ने संबंधित डीएम और एसएसपी को निर्देश दिये कि वे आवश्यक व्यवस्थायें समय से सुनिश्चित करें। परीक्षाओं में किसी भी प्रकार की अव्यवस्था होने पर डीएम की जिम्मेदारी तय होगी। परीक्षा के दौरान बिजली की निर्बाध आपूर्ति हो। परीक्षा के दौरान किसी भी प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक यंत्र एवं मोबाइल आदि परीक्षार्थियों को कतई ले जाने की छूट न दी जाये।
कुल 14,27,172 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे
मुख्य सचिव बुधवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि डीएम व एसपी को परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण अवश्य करना होगा। साथ ही सॉल्वर गैंगों पर विशेष नजर रखने को भी कहा। वहीं उप्र अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष अरुण कुमार सिन्हा ने बताया कि आगामी 22 एवं 23 दिसम्बर को दोनों पालियों में अर्थात चार पालियों में परीक्षा होगी जिसमें कुल 14,27,172 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे।
16 जिलों में होगी परीक्षा
आगरा, अलीगढ़, अयोध्या, बरेली, गाजियाबाद, गोरखपुर, झांसी, कानपुर नगर, लखनऊ, मथुरा, मेरठ, मुरादाबाद, मुजफ्फरनगर, प्रयागराज, सहारनपुर व वाराणसी।

69000 सहायक अध्यापक भर्ती पर मंडराया संकट

तो क्या इस बार भी मोटर साइकिल पर आएंगी आंसर शीट


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.