अपहरण कर ले जाने की सूचना पर ट्रेन से उतारे 100 बच्चे

2019-06-30T06:00:12Z

-झारखंड व बिहार से उप्र के मदरसों में ले जाए जा रहे थे

-पूछताछ के बाद जीआरपी ने दूसरी ट्रेन से किया रवाना

बरेली : बिहार और झारखंड के गांवों से लड़कों को अपहरण करके ले जाने की सूचना पर कोई 100 बच्चों को मालदा टाउन-आनंद विहार एक्सप्रेस से बरेली जंक्शन पर उतारा गया। जंक्शन पर राजकीय रेलवे पुलिस बच्चों और उनको लेकर जा रहे मौलवियों से दो घंटे तक पूछताछ करती रही। पता चला कि बच्चों को रामपुर, मुरादाबाद, मेरठ, सहारनपुर इत्यादि जिलों के मदरसों में दाखिला दिलाने के लिए ले जाया जा रहा था। इसके बाद सभी को दूसरी ट्रेनों में बैठाकर रवाना कर दिया गया।

शनिवार दोपहर किसी ने रेलवे पुलिस के ट्विटर अकाउंट पर सूचना दी कि मालदा टाउन-आनंद विहार एक्सप्रेस के कोचों में 100 से अधिक बच्चों को बंधक बनाकर ले जाया जा रहा है। ट्रेन की लोकेशन बरेली के पास मिली, तो जीआरपी, आरपीएफ को अलर्ट कर दिया गया। दोपहर 1.45 बजे जैसे ही ट्रेन जंक्शन पर पहुंची, जीआरपी, आरपीएफ ने मालदा टाउन एक्सप्रेस को घेरकर चेकिंग करना शुरू कर दिया। कोई 100 बच्चों को पुलिस ने ट्रेन के कई कोचों से उतार लिया। इनके साथ घर वाले भी नहीं थे। इनमें पांच-छह साल के बच्चों से लेकर 18-20 साल तक के युवक थे। पूछताछ के दौरान उन्होंने बताया कि वे झारखंड व बिहार से उत्तर प्रदेश के मदरसों में पढ़ने जा रहे हैं। बच्चे अलग-अलग समूह में थे। सभी के पास टिकट और आधार मिले। पुलिस ने सबके नाम-पते नोट कर लिए। इसके बाद इन्हें अलग-अलग ट्रेनों से रवाना कर दिया गया।

---

हेडक्वार्टर से सूचना मिली थी कि ट्रेन में कुछ बच्चे संदिग्ध परिस्थितियों में ले जाए जा रहे हैं। बच्चों को उतारकर उनसे पूछताछ की गई। बच्चे मदरसों में जा रहे थे। उनके पास टिकट भी मिले।

-बलवीर सिंह, इंस्पेक्टर आरपीएफ


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.