उत्‍तराखंड में बादल फटा, लैंड स्‍लाइड में गई 6 की जान

2014-07-31T16:18:27Z

उत्तराखंड में बादल फटने और लैंडस्‍लाइडिंग की घटनाओं के चलते 6 लोगों की मौत हो गई है. इन आपदाओं में मरने वालों में तीन महिलाएं दो बच्‍चों समेत छह लोगों की मौत हो गई है.

टिहरी में फटा बादल
उत्तराखंड के टिहरी जिले में बादल फटने से एक शख्स घायल हो गया है. इस संबंध में टिहरी जिला के आपदा प्रबंधन अधिकारी आशीष सेमवाल ने फोन पर बताया कि बादल फटने के बाद रूड्स नाले से होकर पहाड़ का मलबा बहकर नेताड़ गांव में गिरा जिससे गांव के तकरीबन 12 मकान पूरी तरह से ध्वस्त हो गए. इसमें रहने वाली दो महिलाओं और दो बच्चों की मौत हो गई. इसके साथ ही एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया और एक व्यक्ति लापता है.
लैंडस्लाइडिंग के साथ फटा बादल
जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी ने बताया कि बादल फटने की घटना रात के ढाई बजे घटी है जब गांव के सभी लोग गहरी नींद में सो रहे थे. इस घटना में मरने वालों की पहचान मगनी देवी (52), मंगलेश्वरी देवी(56), अंकिता(13) और बेबु(11) के रूप में हुई है. इनके अलावा 32 वर्षीय राजेश नौटियाल अभी लापता है. इस गांव में मलबे से विनोद नौटियाल नाम के व्यक्ति को जिंदा निकाला गया है.

भारी बारिश  भी हुई
उत्तराखंड की भटवाड़ी तहसील के बकोली गांव में एक व्यक्ति पर पहाड़ से गिरा मलबा गिरने से मौत हो गई. गौरतलब है कि उत्तराखंड में एक दिन में यह दूसरी नैचुरल क्लेमिटी है्. प्रदेश के विभिन्न इलाकों में पिछले एक दिन में अत्यधिक बारिश हुई है. मसलन जखोली में 75 मिमि, धारचूला में 58.80 मिमि, उखीमठ में 58.72 मिमि,उत्तरकाशी में 41.01 मिमि और रुद्रप्रयाग में 32.4 मिमि बारिश हुई.

Posted By: Prabha Punj Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.