पूर्वाचल का केंद्र बिंदु है गोरखपुर

2018-12-01T06:00:12Z

गीडा के 30वें स्थापना दिवस पर सीएम ने अपनी शुभकामनाएं देते हुए कहा कि गीडा औद्योगिक विकास की नई उंचाइयों को छूने में कामयाब हो रहा है। गोरखपुर संपूर्ण पूर्वाचल केंद्र बिन्दु है। अवस्थापना सुविधाओं का समुचित विकास करना सरकार की प्राथमिकता है और इस दिशा में गीडा को सभी औद्योगिक सुविधाओं से जोड़ा जा रहा है। औद्योगिक विकास को बढ़ाने के लिए सुरक्षा का वातावरण बने, सरकार इस दिशा में सतत प्रयत्‍‌नशील है और यह सरकार की प्रमुखताओं में से है।

खुलेगा बायोफ्यूल प्लांट

सीएम ने कहा कि गीडा के विकास को गति मिले, इसके लिए एक्सप्रेस वे बनाई जा रही है और इसके दोनों ओर औद्योगिक गलियारा बनाकर अधिक औद्योगिक निवेश हो सके इस दिशा में कार्य किया जा रहा है। इसके जरिए बेरोजगार नवजवानों को रोजगार मिलेगा। उन्होंने गोरखपुर के दक्षिणान्चल में बायोफ्यूल प्लांट लगाया जायेगा। इससे किसानों को अपने फसल के अवशेष जलाने नहीं पड़ेंगे। बल्कि उनके पुआल का दाम मिलेगा और उनकी आय दोगुनी होगी।

औद्योगिक निवेश के दिए निर्देश

सीएम ने कहा कि विकास व सुशासन का कोई विकल्प नहीं होता है। हर नवजवान को कार्य चाहिए। इसके लिए उद्योग लगाने होंगे और गीडा द्वारा इस दिशा में सकारात्मक पहल की जा रही है। शासन ने उद्योगपतियों की समस्याओं का समाधान किया है, जमीन की व्यवस्था औद्योगिक निवेश व विकास के लिएसंबंधित अधिकारी को निर्देश दिए गए है।

गीडा में बन रहा है औद्योगिक माहौल

औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने कहा कि प्रदेश सरकार ने औद्योगिक विकास को गति प्रदान की है और अब गीडा में औद्योगिक माहौल बना है। अब नए युग की शुरुआत औद्योगिक क्षेत्र में हो रही है। जनता को सरकार पर विश्वास है और सरकार जनहित में अनेक योजनाएं संचालित कर रही है। उन्होंने उद्योग एंव रोजगार एक दूसरे के पूरक है।

बनाया जा रहा है मास्टर प्लान

मुख्य सचिव अनूप चन्द्र पांडेय ने कहा कि गीडा निरन्तर विकास की ओर अग्रसर है और इस दिशा में शासन द्वारा भागीरथ प्रयास कर औद्योगिक वातावरण सृजत किया जा रहा है। जिसके बेहतर परिणाम परिलक्षित हो रहे हैं। गीडा में उद्योग की काफी सम्भावनाएं है, इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलप करने की कार्ययोजना तैयार की जा रही है। गोरखपुर में एक्सप्रेस वे के बगल में इंडट्रीयल एरिया डेंवलप करने के लिए मास्टर प्लान बनाई जा रही है। उन्होंने कहा कि शासन औद्योगिक विकास हेतु कटिबद्ध है।

1673 एकड़ भूमि का हो चुका है अधिग्रहण

कमिश्नर अमित गुप्ता ने अतिथियों का स्वागत किया। बताया कि पूर्वाचल के औद्योगिक विकास के लिए गीडा की स्थापना की गई। गीडा ने अब तक डेवलपमेंट प्लान के अनुसार प्रस्तावित 32 सेक्टरों के अन्तर्गत 1673 एकड़ भूमि का अधिग्रहण कर लिया है। मौके पर विधायक शीतल पांडेय, फतेहबहादुर सिंह, संत प्रसाद, विपिन सिंह, पूर्व मंत्री राजेश त्रिपाठी, महापौर सीताराम जायसवाल, राज्य महिला आयोग उपाध्यक्ष अंजू चौधरी चेम्बर ऑफ इंडस्ट्रीय के अध्यक्ष विष्णु अजीत सरिया, अपर मुख्य सचिव सूचना अवनीश अवस्थी आदि मौजूद थे।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.