कैंसर से बचना है तो जमकर खाएं प्याज और लहसुन रिसर्च का दावा

2019-02-23T08:45:15Z

लियम सब्जियों मतलब लहसुन प्याज और हरी प्याज के सेवन से कोलोरेक्टल कैंसर के बढ़ते खतरे को कम किया जा सकता है।

बीजिंग (पीटीआई)। कैंसर जैसे घातक रोगों से बचाव में लहसुन और प्याज की भूमिका सामने आई है। एक अध्ययन का दावा है कि एलियम सब्जियों मतलब लहसुन, प्याज और हरी प्याज के सेवन से कोलोरेक्टल कैंसर के बढ़ते खतरे को कम किया जा सकता है। यह कैंसर कोलोन (मलाशय) में होता है और कैंसर से होने वाली मौत का प्रमुख कारण है। शोधकर्ताओं के अनुसार, उच्च मात्रा में लहसुन और प्याज खाने वाले वयस्कों में कोलोरेक्टल कैंसर का खतरा 79 फीसद कम पाया गया। यह निष्कर्ष 833 रोगियों पर किए गए अध्ययन के आधार पर निकाला गया है।

लाइफस्टाइल में करना होगा बदलाव

चीन की चाइना मेडिकल यूनिवर्सिटी के फ‌र्स्ट अस्पताल के शोधकर्ता झी ली ने कहा, 'हमारे अध्ययन से यह जाहिर होता है कि ज्यादा मात्रा में एलियम सब्जियों का सेवन करना बचाव के लिहाज से बेहतर हो सकता है। नतीजों से इस बात पर रोशनी पड़ती है कि जीवनशैली में बदलाव के जरिये कोलोरेक्टल कैंसर की रोकथाम की जा सकती है।' बता दें कि स्टडी के दौरान खाने-पीने के बारे में जानकारी लोगों के फेस टू फेस इंटरव्यू करके हासिल की गई। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के इंटरनेशनल एजेंसी फॉर रिसर्च ऑन कैंसर (IARC) की एक रिपोर्ट के मुताबिक, 5 में से 1 पुरुष और दुनिया भर में 6 में से 1 महिला को कैंसर की बीमारी होती है और 8 में से 1 पुरुष और 11 में से 1 महिला की बीमारी से मौत हो जाती है। इसके अलावा, दुनिया में हर छठे व्यक्ति की मौत कैंसर के कारण होती है और यह हृदय रोग के बाद मौत का दूसरा प्रमुख कारण है।

इजराइली वैज्ञानिकों का दावा, एक साल के भीतर खोज लेंगे कैंसर को जड़ से खत्म करने का इलाज

नाईट शिफ्ट में काम करने से दिल की बीमारी और कैंसर का खतरा


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.