मछली ने डाला 22 करोड़ जीडीए की झोली में

2019-03-01T06:01:21Z

-22 करोड़ 79 हजार रुपये की बोली लगाने वाले को मिला ठेका

GORAKHPUR: गोरखपुर के रामगढ़ताल में मछली पकड़ने के लिए नीलामी का प्रॉसेस पूरा कर लिया गया है। इस बार मछलियों की नीलामी से जीडीए के खजाने में 22 करोड़ से अधिक की रकम आई है। ऑनलाइन बोली के बाद नीलामी का प्रॉसेस 10 घंटे तक चला। नीलामी में भाग लेने वाली दो संस्थाओं में 1544 चक्र के बाद फाइनल बोली लगी।

पांच साल के लिए निकला था टेंडर

जीडीए ने रामगढ़ताल में पांच साल तक मछली पकड़ने के लिए टेंडर निकाला था। नीलामी को लेकर दो संस्थाओं ने आवेदन किया था। पिछले 23 फरवरी को ऑनलाइन प्रॉसेस शुरू हुआ। नीलामी 5.36 करोड़ से शुरू होनी थी। दिन में 3 बजे नीलामी शुरू हुई। जो देर रात एक बजे तक जारी रही। अंतिम बोली 22 करोड़ 79 हजार रुपये पर आकर रूकी। इस तरह मछली पकड़ने का ठेका मत्स्य जीवी सहकारी समिति लिमिटेड, तारामंडल रोड टोला मनहट को मिला। इस बारे में सचिव राम सिंह गौतम ने बताया कि नीलामी में भाग लेने वाली दूसरी समिति मत्स्य जीवी सहकारी समिति लिमिटेड महेरवा की तरफ से कुछ आपत्ति दी गई है। दोनों पक्षों को 7 मार्च को बुलाया गया है। आपत्ति की जांच के बाद अंतिम रूप से मछली पकड़ने का जिम्मा समिति को दे दिया जाएगा।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.