Home Qurantine: क्‍वारंटाइन टाइम पीरियड में किन बातों का रखना चाहिए ध्यान

Updated Date: Thu, 26 Mar 2020 08:37 AM (IST)

Home Qurantine Guidelines and Dos Donts कोरोना वायरस मरीज के संपर्क में आए लोगों को 14 दिन के लिए होम क्‍वारंटाइन की सलाह दी जाती है। यानी इसमें आपको घर पर एक कमरे में अलग रहना होता है। आइए जानें इस दौरान किन-किन बातों का रखना चाहिए ध्यान।

कानपुर। Home Qurantine Guidelines and Dos Donts देश में कोरोना वायरस के मामलों का बढ़ना जारी है। ऐसे में लोग जो किसी COVID-19 संक्रमित व्‍यक्ति के संपर्क में आए हैं उनमें से कई को घर में ही क्‍वारंटाइन रहने की सलाह दी जाती है। इस दौरान आपको इन दिशा-निर्देशों का पालन करना होता है।

घर में रहने वाले को इन निर्देशों का पालन करना चाहिए -

- एक अच्छी तरह हवादार एकल कमरे में रहें। अगर एक और परिवार के सदस्य को एक ही कमरे में रहना पड़ता है, तो दोनों के बीच एक मीटर की दूरी रखिए।

- बुजुर्ग लोगों, गर्भवती महिलाओं, बच्चों और व्यक्तियों से दूर रहने की जरूरत है।

- घर पर किसी तरह की भीड़ या फंक्शन, समारोह का आयोजन न करवाएं।

- जो व्यक्ति क्वेरेंटाइन पीरियड में है, उसे घर के हर कोने में नहीं जाना चाहिए।

- हाथ को साबुन और पानी से या अल्कोहल आधारित सैनेटाइजर से अच्छी तरह धोएं।

- घरेलू सामानों को शेयर करने से बचें। जैसे कि बर्तन, गिलास, प्याले, खाने के बर्तन व घर में अन्य लोगों के साथ तौलिए, बिस्तर, या अन्य सामान साझा न करें।

- हर समय सर्जिकल मास्क पहनें। मास्क को हर 6-8 घंटे में बदलना चाहिए।

- यदि वायरस के लक्षण दिखाई देते हैं (खांसी / बुखार / सांस लेने में कठिनाई), तो उसे तुरंत इलाज कराना चाहिए। नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र को सूचित करें या 011-23978046 पर कॉल करें।

क्वेरेंटाइन में रहने वाले व्यक्तियों के परिवार के सदस्यों के लिए निर्देश -

- परिवार के एक सदस्य को इस तरह की देखभाल करने का काम सौंपा जाना चाहिए। सभी लोगों को उस व्यक्ति के पास जाने की जरूरत नहीं है।

- त्वचा के सीधे संपर्क में आने से बचें

- सतहों की सफाई करते समय डिस्पोजेबल दस्ताने का उपयोग करें

- दस्ताने हटाने के बाद हाथ धोएं

- आगंतुकों को अनुमति नहीं दी जानी चाहिए

- यदि व्यक्ति को क्वेरेंटाइन में रहने के लिए कहा गया तो उसके संपर्क में आने वाले दोस्तों व रिश्तेदारों और निकट संबंधियों को भी घर पर 14 दिन तक रहना चाहिए।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.