Coronavirus : मोहन बाबू ने बेटे विष्णु संग मिल कर 8 गांव लिए गोद, ऋतिक ने 1.2 लाख गरीबों का पेट भरने का उठाया जिम्मा

Updated Date: Wed, 08 Apr 2020 11:45 AM (IST)

Coronavirus : साउथ एक्टर व प्रोड्यूसर मोहन बाबू और उनके बेटे विष्णु मांचू ने आंध्र प्रदेश के 8 गांवों क गोद ले लिया ताकि कोई भूखा न सो सके। वहीं ऋतिक रोशन ने भी अक्षय पात्र एनजीओ से हाथ मिलाया और वो 1.2 लाख गरीब व जरुरतमंदों तक कुक्ड फूड पैकेट्स पहुंचाएंगे।

हैदराबाद (आईएएनएस)। Coronavirus : वेटरन तेलुगू एक्टर और प्रोड्यूसर मोहन बाबू व उनके बेटे और एक्टर विष्णु मांचू ने आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले के 8 गांवो को लाॅकडाउन के दौरान गोद लिया है। दोनों इन गावों में रहने वाले गरीबों को दो वक्त का खाना मुहैया कराएंगे। इसके साथ ही गोद लिए हुए इलाकों में वे दोनों करीब 8 टन सब्जियां गरीबों के लिए उपलब्ध कराएंगे। बता दें कि मोहन बाबू को परोपकारी कार्यों के लिए पहले भी जाना जाता रहा है और उनका जन्म भी चित्तूर में हुआ था। मालूम हो चित्तूर के श्री विद्यानिकेतन ग्रुप ऑफ एजुकेशनल इंस्टीट्यूशंस की शुरुआत भी उन्होंने ने ही की थी।

ऋतिक ने हाथ मिलाया अक्षय पात्र से

ऋतिक रोशन ने भी महामारी के इस वक्त में गरीबों व जरुरतमंदों को करीब 1.2 लाख खाने के पैकेट उपलब्ध कराने का फैसला लिया है। ऋतिक इस तरह गरीबों व जरुरतमंदों की सहायता करना चाहते हैं जिसके लिए उन्होंने एनजीओ अक्षय पात्र से हाथ मिलाया है। अक्षय पात्र एनजीओ ने ट्विटर पर एक्टर को धन्यवाद कहा। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, 'हमें आपसे ये शेयर करने में खुशी महसूस हो रही है हमारे फाउंडेशन को एक्टर ऋतिक रोशन का साथ मिल गया है। हम साथ मिल कर करीब 1.2 लाख गरीबों को पोषक भोजन खिलाएंगे।इसमें ओल्ड एज होम, दिहाड़ी के मजदूर और भारत का गरीब तबका शामिल है।'

ऋतिक ने इन्हें बाताय रियल लाइफ सुपर हीरोज

'हम सुपर स्टार ऋतिक रोशन को रिलीफ फंड प्रोवाइड कराने, हमें सपोर्ट करने व सभी भारतीयों के स्वास्थ्य की चिंता करने के लिए उन्हें सेल्यूट करते हैं। हम आपको इसके लिए धन्यवाद कहते हैं।' इस ट्वीट पर रिएक्शन देते हुए ऋतिक ने भी ट्वीट किया और लिखा, 'मैं आशा करता हूं कि इस देश में कोई भूखा न सोए। आप सभी रियल लाइफ के सुपर हीरोज हैं।' बता दें कि ऋतिक ने हाल ही में एन95 और एफएफपी3 मास्क बीएमसी वर्कर्स और केयरटेकर्सको प्रोवाइड कराए हैं।

Posted By: Vandana Sharma
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.