Coronavirus: CM योगी ने विधायकों व एमएलसी से की अपील, कोविड केयर फंड में दें 1 करोड़ रुपये व 1 माह का वेतन, मायावती की भी तारीफ

Updated Date: Sat, 04 Apr 2020 04:18 PM (IST)

Coronavirus यूपी सरकार ने विधायकों एमएलसी से एक महीने का वेतन व 1-1 करोड़ रुपये COVID केयर फंड में दान करने की अपील की है। वहीं सीएम योगी ने मायावती द्वारा अपनी पार्टी विधायकों को कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में राज्य सरकार को मदद देने का निर्देश दिए जाने की आज तारीफ की।

लखनऊ (पीटीआई)। Coronavirus उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को विधान सभा और विधान परिषद के सदस्यों से अपील की कि वे 1-1 करोड़ रुपये व अपना एक माह का वेतन COVID केयर फंड में दान करें। वर्तमान में, राज्य में 400 विधायक और 99 एमएलसी हैं। एक आधिकारिक बयान के अनुसार, राज्य सरकार ने कॉर्पोरेट सोशल रिस्पांसबिलिटी के तहत वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए उद्योगों से भी आग्रह किया है। मुख्यमंत्री ने शनिवार को बसपा प्रमुख मायावती को धन्यवाद दिया कि उन्होंने अपने पार्टी विधायकों को कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में राज्य सरकार को मदद देने का निर्देश दिया। सीएम योगी ने कहा कि इस समय देश को एकजुट होकर कोरोना के खिलाफ लड़ने की जरूरत है। सभी को देश हित में राजनीतिक मतभेदों से ऊपर उठना चाहिए।

Chief Minister Yogi Adityanath has thanked Bahujan Samaj Party Chief, Mayawati for directing BSP MLAs to support Government's efforts to combat #COVID19.CM said that everyone should rise above political differences&stand together in this:Uttar Pradesh Information Dept (File pics) pic.twitter.com/WsSFHo8TCF

— ANI UP (@ANINewsUP) April 4, 2020मायावती ने दिए अपने विधायकों को निर्देश

बसपा प्रमुख मायावती ने अपनी पार्टी के सभी विधायकों व जनता से कोरोना वायरस से बचाव व जरूरतमंदों की मदद के लिए आगे आने की अपील की है। शुक्रवार को उन्होंने ट्वीट किया कि देशभर में कोरोनावायरस की महामारी के प्रकोप के मद्देनजर खासकर यूपी के बीएसपी विधायकों से भी अपील है कि वे भी पार्टी के सभी सांसदों की तरह अपनी विधायक निधि से कम से कम 1-1 करोड़ रुपये अति जरूरतमन्दों की मदद हेतु जरूर दें। बीएसपी के अन्य लोग भी अपने पड़ोसियों का जरूर मानवीय ध्यान रखें।

सरकार को वित्तीय सहायता की पेशकश की

बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ की अपील पर, कई लोगों ने आगे आकर संकट से निपटने के लिए सरकार को वित्तीय सहायता की पेशकश की, जिसके तहत मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा एक दिन का वेतन दिया गया। फंड का इस्तेमाल मेडिकल टेस्टिंग लैब और टेलीमेडिसिन में किया जाएगा।

Posted By: Shweta Mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.