COVID-19 effect: राजस्थान में हुआ टोटल लॉकडाउन, पंजाब में कंस्ट्रक्शन वर्कर के लिए रिलीफ फंड व मथुरा में मंदिर हुए बंद

Updated Date: Sun, 22 Mar 2020 03:47 PM (IST)

COVID-19 effect कोरोनावायरस के महामारी घोषित होने और प्रधानमंत्ररी के सेल्फ आइसोलेशन यानि जनता कर्फ्यू के एलान के बाद देश भर में इस समय तनावपूर्ण सतर्कता की स्थिति बनी हुई है। इसका हरेक पर अलग प्रभाव पड़ा है। राज्य सरकारें और दूसरे तमाम संस्थान खतरे से निपटने के लिए अपने स्तर पर सावधानी बरत रहे हैं। इसी क्रम में जहां राजस्थान सरकार ने 31 मार्च तक स्टेट में टोटल लॉकडाउन का फैसला किया है वहीं पंजाब में भी कंस्ट्रक्शन से जुड़े वर्कस को 3000 रुपये राहत का एलान किया गया है। इसके अलावा दिल्ली मेट्रो कुछ नियमों के साथ सोमवार को भी बंद रहेगी मथुरा में कई मंदिरों को बंद कर दिया गया है।

(एजेंसीज)। COVID-19 effect: इस समय सारी दुनिया में COVID-19 को लेकर तनाव की सिचुएशन है, इसी के बीच देश भर में अलग अलग स्थानों पर कई खास योजानाओं के साथ इसके साथ निपटने का प्रयास हो रहा है। पीटीआई, एएनआई और आईएएनएस जैसी समाचार एजेंसियों के अनुसार परिस्थितियों के सामान्य होने तक कई राज्यों से कुछ खास नियमों के बारे में खबरें आ रही हैं। कहीं राहत राशि का एलान तो कहीं टोटल लॉकडाउन की खबर है। मंदिर बंद हो रहे हैं और सीएए प्रोटेस्टर्स से मूवमेंट पोस्टपोन करने के लिए कहा जा रहा है। जरूरी चिकित्सा सामग्री का प्रोडेक्शन तेजी से करने की बातें भी हो रही हैं।

राजस्थान सीएम ने कोरोनोवायरस महामारी के चलते 31 मार्च तक टोटल लॉकडाउन की घोषणा की

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने देश में आवश्यक सेवाओं पर प्रतिबंध लगने के बाद 31 मार्च तक राज्य में टोटल लॉकडाउन का आदेश दिया है। मुख्यमंत्री कार्यालय ने शनिवार देर शाम एक प्रेस नोट करके दुनिया भर में अब तक 11,500 से अधिक लोगों की जान लेने वाले घातक कोरोनावायरस के प्रसार को देखते हुए 22 से 31 मार्च तक इसकी घोषणा की है। इस दौरान सभी सरकारी और निजी कार्यालय, मॉल, दुकानें, कारखाने और सार्वजनिक परिवहन बंद रहेंगे। मुख्यमंत्री ने राज्य में कोरोनोवायरस स्थिति की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करने के बाद यह निर्णय लिया। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को लॉकडाउन के दौरान पर्याप्त फूड आइटम्स की आपूर्ति सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। उन्होंने निर्देश दिया है कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम से जुड़े एक करोड़ से अधिक परिवारों को मई तक मुफ्त में गेहूं दिया जाए। गहलोत ने 1 अप्रैल से स्ट्रीट वेंडर, दैनिक मजदूरी करने वाले और ऐसे जरूरतमंद परिवारों को दो महीने के लिए आवश्यक खाद्य पदार्थों के मुफ्त पैकेट देने का भी निर्देश दिया है। ये पैकेट जिला प्रशासन और नगरपालिकाओं के सहयोग से उपलब्ध कराए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने अपील की है कि बंद के दौरान बंद कारखानों में किसी भी कर्मचारी को उनकी नौकरी से नहीं हटाया जाए और उन्हें इस अवधि के लिए भुगतान किया जाना चाहिए। इसके लिए उन्होंने श्रमविभाग को फैक्ट्री प्रबंधकों से संपर्क रखने के लिए कहा।

जामिया टीचर्स एसोसिएशन ने एंटी सीएए प्रोटेस्ट को पोस्टपोन करने का आग्रह किया

जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी टीचर्स एसोसिएशन ने देश भर के सीएए विरोधी प्रदर्शनकारियों से आग्रह किया है कि वे अपने आंदोलन को पोस्टपोन कर दें, जिसमें शाहीन बाग में आनंदोलन कर रहे लोग भी शामिल हैं। प्रदर्शनकारियों को संबोधित एक पत्र में, शिक्षक संघ ने कहा, "जामिया टीचर्स एसोसिएशन (JTA) भारतीय संविधान में बनाए गए अपने देश में समान अधिकारों और फेसेलिटी पाने के लिए आपकी लड़ाई और भावनाओं की भावना का सम्मान करता है, लेकिन इस समय दुनिया को एक अत्यधिक संक्रामक वायरस के पैदा हुए खतरे के कारण हेल्थ इमरजेंसी का सामना करना पड़ रहा है, कॉरोनवायरस नाम के इस रोग से लड़ाई को देखते हुए इस प्रोटेट्ट को रोक दें। भारत में अब तक 280 से अधिक सहित दुनिया भर में इससे जुड़े लगभग 2.85 लाख मामले सामने आए हैं।

पंजाब कंस्ट्रक्शन वर्कर को देगी 3,000 रुपये की राहत

इस बीच पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शनिवार को COVID-19 के प्रकोप के मद्देनजर राज्य के सभी रजिस्टर्ड कंस्ट्रक्शन वर्कर को 3,000 रुपये की तत्काल राहत की घोषणा की है। ये पैसा सोमवार 23 मार्च तक श्रमिकों के बैंक खातों में स्थांतरित कर दिया जाएगा।

मेट्रो सेवाएं सोमवार को बड़े पैमाने पर बंद रहेंगी

दूसरी ओर दिल्ली मेट्रो के अधिकारियों ने कहा है कि कोरोनोवायरस मामलों में तेजी वृद्धि को देखते हुए दिल्ली मेट्रो सेवाओं को सोमवार को कुछ घंटों के लिए बंद रखा जाएगा। सेवायें सुबह 6 बजे शुरू होंगी और 20 मिनट की ट्यूरेशन पर सुबह 8 बजे तक उपलब्ध रहेंगी, जिसमें केवल आवश्यक सेवाओं जैसे अस्पताल, अग्नि, बिजली, पुलिस आदि में शामिल लोगों के लिए यात्रा की परमीशन होगी। डीएमआरसी के एक अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा कर्मियों को पहचान पत्र दिखाने पर ही इन लोगों को मेट्रो स्टेशनों में एंट्री की परमीशन मिलेगी। रेग्युलर सर्विस 8-10 बजे तक उपलब्ध होंगी। इस अवधि के दौरान आम जनता यात्रा कर सकती है और प्रवेश के समय उनको किसी आईडेंटिटी की आवश्यकता नहीं होगी। सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक सभी मेट्रो सर्विसेज बंद रहेंगी। हालांकि, जो ट्रेनें सभी लाइनों से सुबह 10 बजे शुरू होंगी वो अपने फाइनल डेस्टिनेशन तक ही जायेंगी। 4-8 बजे तक दो घंटे के लिए सेवाएं फिर से उपलब्ध होंगी, लेकिन रात 8 बजे के बाद बंद अपने ओरिजनल स्टेशन तक चलती रहेगी। डीएमआरसी ने कहा कि मेट्रो स्टेशनों पर पार्किंग सोमवार को भी बंद रहेगी।

मथुरा में प्रमुख मंदिर कोरोनोवायरस के कारण बंद

मथुरा के प्रमुख मंदिरों को कोरोनोवायरस महामारी के मद्देनजर तीन से 10 दिनों के लिए बंद कर दिया गया है। मंदिरों के अधिकारियों ने कहा कि ये आदेश अगली जानकारी तक लागू रहेंगे। इस क्रम में विख्यात बांकेबिहारी मंदिर को 31 मार्च तक जनता के लिए बंद कर दिया गया है। हालांकि, मंदिर के भीतर हमेशा की तरह भगवान की सेवा और पूजा जारी रहेगी। 22 किलोमीटर की गोवर्धन परिक्रमा पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। मुखारबिंद मंदिर जतीपुरा 31 मार्च तक बंद है। दानघाटी मंदिर और मुकुट मुखारबिंद मंदिर गोवर्धन को भी सोमवार तक के लिए बंद कर दिया गया है। श्री कृष्ण जन्मस्थान और पुराने केशव देव मंदिर में स्थित सभी मंदिर 24 मार्च तक बंद रहेंगे। कीर्ति किशोरी मंदिर, बरसाना को भी 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है। लाडली मंदिर, बरसाना भी सोमवार तक बंद रहेगा। राजा ठाकुर मंदिर, गोकुल भी 31 मार्च तक बंद रहेगा।

पीएम ने फार्मा उद्योग से अनुरोध किया COVID -19 परीक्षण किट का निर्माण वॉरफुटिंग पर हो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को फार्मास्युटिकल उद्योग से वॉरफुटिंग पर COVID-19 परीक्षण किट बनाने का आग्रह किया। फार्मास्युटिकल उद्योग के नेताओं के साथ बातचीत में, मोदी ने कहा कि केंद्र पहले ही महत्वपूर्ण दवाओं और चिकित्सा उपकरणों के उत्पादन के लिए 14,000 करोड़ रुपये की योजनाओं को मंजूरी दे चुका है। प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा, “महत्वपूर्ण दवाओं और चिकित्सा उपकरणों का उत्पादन सुनिश्चित करने के लिए, केंद्र ने पहले ही 14,000 करोड़ रुपये की योजनाओं को मंजूरी दे दी है। हम एपीआई की आपूर्ति बनाए रखने के लिए भी काम करेंगे।

Posted By: Molly Seth
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.