Lockdown में चली 24 कोच की पहली स्पेशल ट्रेन, तेलंगाना से झारखंड भेजे गए प्रवासी

Updated Date: Fri, 01 May 2020 12:46 PM (IST)

तेलंगाना से झारखंड जाने वाले प्रवासियों के लिए स्पेशल ट्रेन आज चलाई गई है। 24 कोच की ट्रेन में सुबह 4.50 बजे शुरू हुई। लाॅकडाउन के बाद चली इस पहली ट्रेन से अब अन्य राज्यों में फंसे प्रवासियों में भी उम्मीद जगी है।

नई दिल्ली (पीटीआई)। भारतीय रेलवे ने लाॅकडाउन के बीच शुक्रवार को तेलंगाना से झारखंड जाने वाले प्रवासियों के लिए विशेष सुविधा प्रदान की है। रेलवे ने लाॅकडाउन के दाैरान फंसे प्रवासियों के लिए तेलंगाना के लिंगमपल्ली से झारखंड के हटिया तक के लिए एक स्पेशल रेलगाड़ी चलाई। 25 मार्च से लगे लाॅकडाउन के बाद से पब्लिक के लिए यह पहली ट्रेन चली है। इस संबंध में आरपीएफ डीजी अरुण कुमार ने पीटीआई को बताया, 24 कोच की ट्रेन आज (शुक्रवार) सुबह 4.50 बजे शुरू हुई। उन्होंने कहा कि यह अब तक तैनात की जाने वाली एकमात्र ट्रेन है। संयोग से शुक्रवार को आज अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस भी है। इस दाैरान सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखा जा रहा है। इस ट्रेन के चलने से फंसे प्रवासियों को थोड़ी राहत मिली है। इसमें सवार प्रवासी काफी खुश दिखे।

कई राज्यों में दूसरे राज्यों के प्रवासी श्रमिक फंसे

वहीं अन्य राज्यों के प्रवासियों को भी आस जगी क्योंकि कोरोना वायरस को रोकने के लिए लगे लाॅकडाउन की वजह से देश के कई राज्यों में दूसरे राज्यों के प्रवासी श्रमिक फंसे हैं। हालांकि कई राज्य अपने प्रवासी श्रमिकों को वापस लाने का प्रयास कर रहे हैं। मध्य प्रदेश की सरकार देशव्यापी लॉकडाउन के कारण दूसरे राज्यों में फंसे श्रमिकों को वापस लाने की प्रक्रिया अपना रही है। मध्य प्रदेश में अब तक राजस्थान, गुजरात समेत अन्य राज्यों से करीब 20000 से अधिक मजदूरों को वापस लाया जा चुका है। राजस्थान के जैसलमेर, नागौर, जोधपुर और जयपुर शहर से 200 बसों के जरिए यात्रा करके बड़ी संख्या में मजदूर मध्य प्रदेश के नीमच, आगर-मालवा, श्योपुर और गुना की एंट्री प्वाइंट में पहुंचे हैं। वहीं गुजरात से लगभग 500 लोग वापस लाए गए हैं।

Posted By: Shweta Mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.