मेरठ में क्राइम ब्रांच करेगी राशन डीलरों की जांच

2018-09-25T17:31:08Z

आधार कार्ड बदलकर निकाला था जरूरतमंदों का राशन 209 राशन डीलरों के खिलाफ दर्ज हैं मुकदमे।

meerut@inext.co.n
MEERUT : राशन घोटाले में लिप्त राशन डीलरों के खिलाफ दर्ज मुकदमे की जांच अब क्राइम ब्रांच करेगी। एसएसपी अखिलेश कुमार का कहना है कि खाद्यान्न घोटाले से संबंधित मुकदमे की जांच क्राइम ब्रांच को ट्रांसफर की जाएगी। जिससे आरोपियों के खिलाफ जल्द ही कोर्ट में चार्जशीट दाखिल हो सके।
आधार के जरिए सेंध
दरअसल, राशन डीलरों ने जरूरतमंदों के आधार कार्ड द्वारा राशन की कालाबाजारी की गई थी। हालांकि शासन की मॉनिटरिंग के बाद पूरे प्रदेश में अरबों रुपये का खाद्यान्न घोटाला पकड़ में आया था। मेरठ में भी इसकी गहरी जड़ें पाई गई थी। जिसके बाद शासन ने मेरठ में 220 संदिग्ध वितरकों की सूची डीएसओ को भेजी थी।
डीएम का निर्देश
डीएम अनिल ढींगरा के निर्देश पर डीएसओ विकास गौतम ने जांच के बाद जिले के 209 वितरकों के खिलाफ घोटाले के मुकदमे दर्ज कराए थे। जबकि 11 वितरकों को डीएसओ की तरफ से क्लीनचिट मिल गई थी।

शहर को 409 करोड़ की 4 एलिवेटेड रोड का तोहफा

अमर सिंह ने आजम और अखिलेश पर साधा निशाना कहा, मेरी जान ले लें आजम पर बेटियों को बख्श दें


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.