आधी आबादी के जज्बे को दैनिक जागरण आई नेक्स्ट ने किया सलाम इन्हें दिया नारी शक्ति अवार्ड

2019-04-06T09:19:35Z

दैनिक जागरण आई नेक्स्ट के नारी शक्ति अवार्ड फंक्शन में सम्मानित किया गया। यह वो नारियां हैं जिन्होंने अलगअलग फील्ड में देश के विकास के लिए एक नई इबारत लिखी

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: अपने हौसले से तकदीर को बदल दूं, सुन ले दुनिया, हां मैं औरत हूं।  कुछ यही जज्बा आज की उन नारियों में देखने को मिला, जिन्हें दैनिक जागरण आई नेक्स्ट के नारी शक्ति अवार्ड फंक्शन में सम्मानित किया गया। जो शुक्रवार को रमाडा प्लाजा में हुआ। यह वो नारियां हैं जिन्होंने अलग-अलग फील्ड में देश के विकास के लिए एक नई इबारत लिखी। यह एक सफल एजुकेशनलिस्ट, आंत्रप्रेन्योर्स और इंडस्ट्रियलिस्ट और सोशलवर्कर बनकर अपना महत्वपूर्ण योगदान दे रही हैं और यह उनके कठिन परिश्रम और अथक संघर्ष और प्रयासों का ही फल है कि वह समाज के साथ देश के विकास में योगदान दे रही हैं।  ये पुरुषों सेे न केवल कंधा मिलाकर बल्कि उनसे ज्यादा आगे आकर योगदान दे रही हैं। वहीं समारोह में पद्मश्री और लोक गायिका मालिनी अवस्थी बतौर मुख्य अतिथि और समाजसेवी अर्पणा बिष्ट यादव और मास्टर शेफ पंकज भदौरिया ने बतौर स्पेशल गेस्ट के तौर पर शामिल होकर समारोह की गरिमा बढ़ाई।

 
सबका सम्मान करें

वाइस प्रेसिडेंट कॉरपोरेट एंड प्रिंटिंग सेंटर दैनिक जागरण आई नेक्स्ट अनिर्बान बागची ने पद्मश्री मालिनी अवस्थी का स्वागत किया।  वहीं डिप्टी एडिटर शर्मिष्ठा शर्मा ने सोशल वर्कर अपर्णा बिष्ट यादव और मास्टर शेफ  पंकज भदौरिया का स्वागत किया।  डिप्टी एडिटर शर्मिष्ठा शर्मा ने डीजे आई नेक्स्ट के विजन के बारे ने बताते हुए कहा कि हमारा प्रयास है, हम सबका सम्मान करें और लोगों को विश्वास दिलाएं कि वो भी समाज में अपनी अलग पहचान बना सकते हैं।
 
महिला पहले से ही सशक्त

डिप्टी एडिटर शर्मिष्ठा शर्मा के साथ बातचीत के दौरान पद्मश्री मालिनी अवस्थी ने बताया कि लोकगीत की हर कोई बात नहीं करता यह अनुभव होते हैं जिनको आप शब्द देते हैं जो आपके मन में आता है।  वीमेन एंपॉवरमेंट की बात पहले से ही होती आ रही है।  महिलाएं तब भी पुरुषों से कंधे से कंधा मिलाकर काम करती आ रही हैं।  उस समय सोहर जिसे पूरा गांव गाता था उसमें महिला सशक्तिकरण की ही बात होती थी।  आज की महिलाएं खुद को प्रूफ करने में लगी हैं।
हमें मदद करनी चाहिए
समाजसेवी अर्पणा बिष्ट यादव ने कहा कि वीमेन एंपॉवरमेंट करने के लिए आगे आना चाहिए।  स्किल डेवलपमेंट भी काफी हो रहे हैं, लेकिन हमें यह देखना चाहिए उसमें हैंडीकैप वीमेन की हम कितनी हेल्प कर सकते हैं। आगे बढ़ाने के लिए हमें उनकी मदद करनी चाहिए, क्योंकि मेरा मानना है जब हम एक हाथ आगे बढ़ाते हैं तो ईश्वर मदद करता है।  इसलिए सोसाइटी को आगे आना चाहिए मदद करने के लिए।

इन्होंने किया बेहतरीन काम

दैनिक जागरण आईनेक्स्ट के वाइस प्रेसिडेंट कॉरपोरेट एंड प्रिंटिंग सेंटर दैनिक जागरण आई नेक्स्ट अनिर्बान बागची ने बताया कि यह प्रोग्राम उन महिलाओं को सम्मानित करने के लिए है जिन्होंने बेहतरीन काम किया है।  यह सम्मान उनके इसी काम को सेलिब्रेट करने के लिए है।  यहां आने के लिए सभी का शुक्रिया।
नारी शक्ति को नमन
नारी शक्ति अवार्ड समाज में अपना एक अलग मुकाम हासिल करने वाली नारी शक्तियों को सलाम करता है।  जिन्होंने समाज की विपरीत धारा में बहते हुये अपने परिश्रम और मेहनत से समाज के साथ खुद का भी मान बढ़ाया है।  इन अवार्ड के तहत कई राज्यों की ऐसी ही नारी शक्तियों को शामिल किया गया है।  
 
लगातार कर रहे प्रयास
दैनिक जागरण आईनेक्स्ट ने नारी शक्ति अवार्ड के साथ अपने बेहतरीन और उत्कृष्ट प्रयासों को जारी रखा है और ऐसे प्रयास आगे भी जारी रहेंगे।  इन अवार्ड का मकसद उन शख्सियतों को सामने लाना और सम्मानित करना है जिन्होंने अपनी मेहनत से उद्यमशीलता की एक नई कहानी लिखी है और अपने परिवार के साथ समाज को भी गौरवान्वित महसूस कराया है।  इन अवार्ड का मकसद भी समाज के ऐसे साधारण लोगों के असाधारण कामों को एक मंच देते हुये आगे लाना है जो दूसरों के लिए भी प्रेरणादायक बन सकें।    

दीप जलाकर कार्यक्रम का शुभारंभ

नारी शक्ति अवार्ड का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलन के साथ किया गया। दैनिक जागरण के संस्थापक स्व. पूर्णचंद गुप्त और पूर्व प्रधान संपादक स्व. नरेंद्र मोहन गुप्त के चित्रों पर माल्यापर्ण और पुष्पांजलि के साथ समारोह आगे बढ़ा।  इस दौरान मुख्य अतिथि पद्मश्री लोक गायिका मालिनी अवस्थी और स्पेशल गेस्ट मास्टर शेफ  पंकज, डिप्टी एडिटर शर्मिष्ठा शर्मा, वाइस प्रेसिडेंट कॉरपोरेट एंड प्रिंटिंग सेंटर दैनिक जागरण आई नेक्स्ट अनिर्बान बागची मौजूद रहे।  

इनको मिला अवार्ड  

1- पूजा दीक्षित, असिस्टेंट सीईओ, आर्य महिला एनएम मॉडल स्कूल
2- डॉक्टर नीलिमा मिश्रा, डायरेक्टर, शिवानी हॉस्पिटल एंड आईवीएफ
3- अदिति शाह, एमडी, यशा
4- शिप्रा श्रीवास्तव, सेक्रेटरी, स्प्रिंगर पब्लिक स्कूल
5- डॉक्टर वंदना बंसल, डायरेक्टर, जीवन ज्योति हॉस्पिटल
6- डॉक्टर  निशा श्रीवास्तव, सेक्रेटरी, अभिनव ग्रुप ऑफ  इंस्टीट्यूशंस
7- रमा गोयल, प्रेसिडेंट, दून संस्कृति संस्थान
8- नीलम द्विवेदी, डायरेक्टर, गार्डन पब्लिक स्कूल
9- रीना सिंह, डायरेक्टर, एएंडए ग्रुप ऑफ कंपनीज
10- पायल शर्मा, पार्टनर फॉल्कन सर्विस साईं धाम मंदिर
11- डॉक्टर रिचा मिश्रा, चेयरपर्सन, श्री बाला जी चेरिटेबल ट्रस्ट
12- डॉक्टर गीता खन्ना, डायरेक्टर, अजंता आईवीएफ सेंटर



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.