Delhi Assembly Election: 'लगे रहो केजरीवाल' में मनोज तिवारी को दिखाने से BJP का AAP को नोटिस, 500 करोड़ रुपये के हर्जाने की भी मांग

Updated Date: Mon, 13 Jan 2020 11:05 AM (IST)

दिल्ली में भाजपा ने आप पर मनोज तिवारी की फिल्मों के वीडियो को प्रचार में उपयोग करने का आरोप लगाया है। भाजपा ने आप को मानहानि का नोटिस भेजकर 500 करोड़ रुपये के हर्जाने की भी मांग की। इसके अलावा चुनाव आयोग से भी शिकायत की।


नई दिल्ली (एएनआई)। दिल्ली में 8 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और आम आदमी पार्टी (आप) जोर-शोर से प्रचार में जुटी है। इस बीच भाजपा ने आप को घेर लिया है। भाजपा का आरोप है कि आप विधानसभा चुनाव में इन दिनों 'लगे रहो केजरीवाल' थीम सॉन्ग का इस्तेमाल कर रही है। उसका यह थीम साॅन्ग 11 जनवरी को पार्टी के ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट किया गया है। ट्विटर पर आप ने यह भी लिखा कि यह गाना इतना अच्छा है कि सर मनोज तिवारी भी इस पर नाच रहे हैं। नाराज भाजपा ने आप संयोजक अरविंद केजरीवाल को मानहानि का नोटिस भेजकर 500 करोड़ रुपये के हर्जाने की भी मांग की। वीडियो को लेकर चुनाव आयोग से भी कार्रवाई की मांग की है। इस मामले में भाजपा का कहना है कि आप ने फिल्म के म्यूजिक वीडियो के निर्देशक व निर्माता की अनुमति नहीं ली है, जो कि मालिकाना हक का उल्लंघन है। इन वीडियो के माध्यम से तिवारी का उपहास करने की भी कोशिश की है और भाजपा इसकी कड़ी निंदा करती है।अपनी सस्ती राजनीति का सबूत दे रहे अरविंद केजरीवाल
वहीं दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी का कहना है कि अरविंद केजरीवाल फिल्मों की क्लिपिंग और तस्वीरों का उपयोग करके अपनी सस्ती राजनीति का सबूत दे रहे हैं। यह मैंने पहले एक कलाकार के रूप में किया था। जिसे अब आप अपना थीम साॅन्ग बनाकर प्रचार कर रही है। क्या केजरीवाल नहीं जानते हैं कि कोई भी अन्य कलाकारों की तस्वीरों का इस्तेमाल उनकी अनुमति के बिना व्यावसायिक तरीके से नहीं कर सकता है? विधानसभा चुनावों में उनकी संभावित हार के मद्देनजर, वे इतने निराश हैं कि वे विज्ञापनों में महिलाओं, बच्चों, कार्यकर्ताओं की तस्वीरों और वीडियो का उपयोग कर रहे हैं। आप की सभा में लोगों को बाहर से बुलाया जा रहा है


भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने यह भी कहा कि आपनेता और कार्यकर्ता पूरी तरह से निराश हैं क्योंकि उन्हें लोगों का समर्थन नहीं मिल रहा है। अरविंद केजरीवाल की सभाओं में, लोग बड़ी संख्या में नहीं दिख रहे हैं। इसलिए लोगों को बाहर से बुलाया जा रहा है। दिल्ली के मुख्यमंत्री ने सारी हदें पार कर दी हैं लेकिन वास्तविकता दिल्ली के लोगों के सामने आ गई है, जो उन्हें कभी माफ नहीं करेंगे? बता दें कि देश की राजधानी दिल्ली में विधानसभा चुनाव आगामी 8 फरवरी को कड़ी सुरक्षा के बीच करीब 13,750 केंद्रों पर मतदान होंगे। इसके बाद 11 फरवरी को याहं पर मतगणना कराई जाएगी।

Posted By: Shweta Mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.