40 लाख के लिए दिल्ली के व्यापारी ने साथी कारोबारी की करवाई हत्या

2019-02-11T06:00:50Z

-दिल्ली के व्यापारी ने नौकर से कराई अपने साथी की हत्या

फरह टोल प्लाजा के पास कार में कारोबारी को मारी गोली

आगरा। रविवार सुबह फरह थाना क्षेत्र में दिल्ली के व्यापारी की हत्या करवाने के बाद साथी खुद आगरा के सिकंदरा स्थित हॉस्पिटल में उसे लेकर पहुंचा। सिकंदरा पुलिस भी हॉस्पिटल पहुंच गई। मामले ने पुलिस को उलझा दिया। फरह पुलिस भी हॉस्पिटल पहुंच गई। लेकिन जब पुलिस ने साथी से कड़ी पूछताछ की तो हत्याकांड से परदा उठता गया। व्यापारी की हत्या उसके ही साथी ने 40 लाख की उधारी हड़पने के लिए अपने नौकर से कराई थी। इस घटना को हमला दिखाने के लिए खुद की बाजू में भी गोली मरवा दी। पुलिस ने साथी को अरैस्ट किया है, जबकि गोली मारने वाले नौकर की तलाश चल रही है।

खुद हॉस्पिटल लेकर पहुंचा था

थाना सिकंदरा पुलिस को रविवार सुबह 10 बजे व्यापारी को गोली से मौत की सूचना मिली। पुलिस हॉस्पिटल पहुंच गई। हॉस्पिटल में एडमिट व्यापारी ने पुलिस को अपना नाम संदीप कुमार निवासी दिल्ली रानीबाग स्थित राधा नगर बताया, जबकि साथी का नाम इसी थाना क्षेत्र के रहने वाले रोहित पहावा (35) बताया। संदीप ने बताया कि वो दोनों आगरा में हौजरी की डिलीवरी देने शनिवार की रात करीब साढ़े बारह बजे कार से निकले थे। एक्सप्रेस वे से कार मथुरा में उतार दी। यहां पर कुछ आराम किया।

चार-पांच बदमाशों ने मार दी गोली

संदीप ने पुलिस को बताया कि रविवार सुबह फरह टोल निकलने के बाद चुरमुरा पहुंचते ही चार-पांच बदमाशों ने उन्हें घेर लिया। रोहित को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया। गोली पीठ में मारी जो सीने को भेदती हुई निकल गई। जबकि उसके हाथ में गोली लगी और किसी तरह बचकर निकल आया। खुद कार ड्राइव कर सिकंदरा स्थित हॉस्पिटल पहुंचा।

फरह पुलिस भी पहुंची आगरा

यहां पर चिकित्सकों ने व्यापारी को मृत घोषित कर दिया। सिकंदरा पुलिस इंस्पेक्टर अनुज कुमार अस्पताल पहुंच गए। थोड़ी देर बाद फरह इंस्पेक्टर प्रमोद पंवार व क्षेत्राधिकारी रिफाइनरी राकेश कुमार यादव भी आ गए।

पूछताछ के बाद हुआ खुलासा

पुलिस ने कहानी में झोल देख संदीप को फरह थाने लाकर पूछताछ की। पूछताछ में मामले से परतें हटती गई। संदीप ने बताया कि उस पर रोहित के करीब 40 लाख से अधिक की देनदारी थी। इस रकम को हड़पने के लिए उसने अपने नौकर के साथ रोहित को मारने का प्लान तैयार किया। प्लान के हिसाब से शनिवार रात रोहित के साथ कार से आगरा के लिए चल दिया जबकि उसका नौकर मोहित (मूल निवासी मेरठ) बस में पीछे आ रहा था।

नौकर ने मारी थी कारोबारी को गोली

रविवार सुबह मोहित का इंतजार करने के लिए फरह क्षेत्र में हाईवे किनारे गाड़ी खड़ी कर उसमें ही सोते रहे। जैसे ही मोहित आया, संदीप गाड़ी से उतर कर पेशाब करने चला गया। इधर, मोहित ने रोहित को पीठ में गोली मार दी। ये गोली सीने में पार हो गई। कहीं वह फंस न जाए, इसलिए संदीप ने भी अपनी बाजू में भी गोली मरवाकर खुद को घायल कर लिया। इसके बाद संदीप खुद कार ड्राइव कर रोहित को मृत हालत में ही आगरा के अस्पताल में भर्ती कराया और खुद वह भी अस्पताल में भर्ती हो गया।

मामला फरह थाना क्षेत्र का है। वहीं की पुलिस इस मामले में कार्रवाई कर रही है।

प्रशांत वर्मा, एसपी सिटी


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.