Delhi Election 2020: केजरीवाल से सपोर्ट में उतरी बेटी हर्षिता पूछा, क्या लोगों को सुविधाएं देने वाला आतंकी होता है?

2020-02-05T11:54:16Z

Delhi Election 2020 दिल्ली विधानसभा चुनाव प्रचार के दाैरान सीएम रविंद केजरीवाल को बीजेपी नेताओं द्वारा आतंकी कहे जाने के खिलाफ अब उनकी बेटी हर्षिता केजरीवाल उतर आई हैं। हर्षिता का कहना है कि वे कहते हैं कि राजनीति गंदी है लेकिन यह राजनीति का एक नया निचला स्तर है।

कानपुर। Delhi Election 2020 दिल्ली विधानसभा चुनाव प्रचार में भारतीय जनता पार्टी की तरफ से आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल पर लगातार हमला बोला जा रहा है। बीजेपी नेता अरविंद केजरीवाल को आतंकी भी कहने से नहीं चूक रहे हैं। ऐसे में दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल की बेटी हर्षिता केजरीवाल अपने पापा के सपोर्ट में उतर आई हैं। उन्होंने पापा को आतंकी कहने वालों को आड़े हाथ लिया। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक हर्षिता केजरीवाल का कहना है कि मेरे पापा हमेशा सामाजिक सेवाओं में रहे हैं। मुझे अभी भी याद है कि वह मुझे मेरे भाई, मां और दादा-दादी को सुबह 6 बजे जगाते थे और भगवद् गीता के बारे में बताते थे। पापा 'इन्सान से इन्सान का हो भाईचारा' गीत गाते थे और हमें इसके बारे में पढ़ाते थे। क्या यही आतंकवाद है?

Harshita Kejriwal: My father has always been in social services. I still remember he used to wake us - my brother, mother, grandparents and I, up at 6 AM, make us read Bhagwad Gita & sing 'Insaan se insaan ka ho bhaichara' song and teach us about it. Is this terrorism? (04.02) https://t.co/zNHF6kISLa

— ANI (@ANI) February 5, 2020


राजनीति का एक नया निचला स्तर

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की बेटी हर्षिता केजरीवाल यही नहीं रुकी। हर्षिता ने कहा कि वे कहते हैं कि राजनीति गंदी है, लेकिन यह राजनीति का एक नया निचला स्तर है। क्या यह आतंकवाद है अगर स्वास्थ्य सुविधाओं को लोगों के लिए मुफ्त में लाया जाता है? यदि बच्चों को शिक्षित बनाया जाता है तो क्या यह आतंकवाद है? क्या यह आतंकवाद है यदि बिजली और पानी की आपूर्ति में सुधार किया जाता है? बता दें कि दिल्ली में इन दिनों विधानसभा चुनाव प्रचार चल रहा है। चुनाव प्रचार के दाैरान हाल ही में पश्चिमी दिल्ली के बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा ने केजरीवाल को आतंकवादी बताया था। बता दें देश की राजधानी दिल्ली में 8 फरवरी को मतदान और 11 फरवरी को मतगणना होगी।

Posted By: Shweta Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.