Delhi Election Result 2020: चेतन भगत ने कांग्रेसी नेताओं को ट्वीट कर कहा, केजरीवाल को क्यों नहीं मान लेते अपना नेता

Updated Date: Tue, 11 Feb 2020 04:15 PM (IST)

Delhi Election Result 2020 देश की राजधानी दिल्ली में विधानसभा चुनाव के नतीजों को देखते हुए चर्चित लेखक चेतन भगत ने कांग्रेस पर कमेंट किया है। उन्होंने चुटकी लेेते हुए कहा कि कांग्रेस के कुछ नेता अरविंद केजरीवाल को अपना नेता क्यों नहीं मान लेते। अब तक आए रुझानों के अनुसार कांग्रेस खाता नहीं खोल पाई है।

कानपुर। Delhi Election Result 2020 देश की राजधानी दिल्ली में विधानसभा चुनाव के नतीजे आज घोषित हो रहे हैं। बीते विधानसभा चुनाव की तरह इस बार भी 70 सीटों में आम आदमी पार्टी ने शानदार प्रदर्शन किया। वहीं कांग्रेस का प्रदर्शन इस बार भी निराशा जनक रहा। राजधानी दिल्ली में कांग्रेस बीते साल की तरह इस बार भी कांग्रेस खाता नहीं खोल पाई है। खास बात तो यह है कि इस बार उसका वोट शेयर भी गिरा है। ऐसे में कांग्रेस के इस प्रदर्शन को लेकर लोग उसकी चुटकी भी ले रहे हैं। देश के चर्चित लेखक चेतन भगत ने तो ट्वीट कर कांग्रेस के नेताओं को अपना नेता बदलने की भी सलाह दे डाली है।

Why don't some Congress leaders across the country accept Arvind Kejriwal as their leader?
What is so great about what they have now?
What will make their career prospects better? To be part of a declining party or a growing one?
Worth thinking about. #DelhiElections2020

— Chetan Bhagat (@chetan_bhagat) February 11, 2020केजरीवाल को अपना नेता क्यों नहीं मानते

लेखक चेतन भगत ने ट्वीट किया कि देश भर के कुछ कांग्रेसी नेता अरविंद केजरीवाल को अपना नेता क्यों नहीं मानते? अब उनके पास क्या है? उनके करियर की संभावनाओं को क्या बेहतर बनाएगा? एक घटती पार्टी का हिस्सा या एक पार्टी जो बढ़ती जा रही है? यह बात सोचने लायक है। वहीं खबर लिखे जाने तक चुनाव आयोग द्वारा जारी आंकड़ों के आधार पर दिल्ली में आम आदमी पार्टी 70 में 63 सीटों पर आगे चल रही थी। बीजेपी 7 सीटों पर आगे थी। वहीं कांग्रेस की बात करें तो शून्य सीट पर थी।

कांग्रेस का वोट शेयर भी इस बार घटा

अभी तक आप का वोट शेयर 53.6प्रतिशत है जबकि बीते विधानसभा चुनाव में वोट शेयर 54.3 आप प्रतिशत था। वहीं इस साल बीजेपी का वोट शेयर 38.7प्रतिशत है, जबकि बीते विधानसभा चुनाव में वोट शेयर 32.3 प्रतिशत था। कांग्रेस के वोट शेयर की बात करें तो इस बार उसका वोट शेयर 4.29 है, जबकि बीते चुनाव में 9.7 प्रतिशत था। 2015 विधानसभा चुनाव में आप ने जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए 67 सीटें हासिल किया था। भाजपा महज तीन सीटों पर सिमट गई और कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिली थी।

Posted By: Shweta Mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.