त्योहारी सीजन में बढ़ी तमंचे की डिमांड

2018-10-31T06:00:40Z

60

हजार रुपए में 10 तमंचे की सप्लाई का लिए थे आर्डर

02

बोरी शस्त्र बनाने के उपकरण भी पुलिस ने किया बरामद

तमंचे की फैक्ट्री पकड़ी गयी, तीन सौदागर गिरफ्तार

PRYAGRAJ: घूरपुर एरिया में मौत का सामान तैयार करने वालों के एक गिरोह को घूरपुर पुलिस व क्राइम ब्रांच की टीम ने मंगलवार को धरदबोचा। पकड़े गए तीन आरोपित तमंचा बनाने की फैक्ट्री संचालित कर रहे थे। पुलिस को भारी मात्रा में निर्मित व अ‌र्द्ध निर्मित असलहों का जखीरा मिला है। तमंचा बनाने के उपकरण भी बरामद किए गए हैं।

निर्मित व अ‌र्द्ध निर्मित तमंचे मिले

पुलिस लाइंस सभागार में मामले का खुलासा करते हुए एसएसपी नितिन तिवारी ने मीडिया को पकड़े गए गिरोह की जानकारी दी। बताया कि मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने घूरपुर के भीटा रोड स्थित पहाड़ी के बीच छापामार कार्रवाई की। एक ने अपनी पहचान रामनारायण निवासी गंभीरापूरब थाना मंझनपुर, दूसरे राकेश कुमार निवासी जलालपुर घोसी थाना पिपरी जिला कौशाम्बी व तीसरे ने राकेश कुमार निवासी सहजीपुर थाना थरवई के रूप में दी। टीम ने मौके से 12 बोर के चार, 315 बोर के पांच व 32 बोर का एक तमंचा बरामद किया। मौके से एक 315 बोर का अ‌र्द्ध निर्मित तमंचा एवं 02 जिंदा कारतूस 315 बोर और 02 खोखा भी मिले हैं। पूछताछ में तीनों ने बताया कि उन्हें 60 हजार रुपए में 10 तमंचे की सप्लाई के आर्डर मिले थे। रामनारायण के विरुद्ध घूरपुर थाने में आ‌र्म्स एक्ट के तहत कई मुकदमे दर्ज हैं।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.