डेंगू ने बढ़ा दिए कीवी और नारियल के रेट

2019-11-17T05:45:59Z

- शहर में एक माह से बढ़े रेट, 20-30 रुपए वाला नारियल 40-70 रुपए में मिल रहा

- कीवी के रेट भी बढ़े, एक कीवी फल लेने के लिए चुकाने पड़ रहे 40-50 रुपए

2-लाख 49 हजार बुखार रोगी

30- हजार 510 मलेरिया पीबी के पॉजिटव

9 हजार 454 मलेरिया पीएफ पॉजिटिव

167-डेंगू की हो चुकी है पुष्टि वर्ष 2019

27-डेंगू पॉजिटिव मिले थे वर्ष 2018 में

5-बेड का है डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में डेंगू वार्ड

बरेली : सिटी में कीवी फल और नारियल पानी काफी महंगा बिक रहा है। इसके रेट लगभग दोगुने हो गए हैं। ऐसा डेंगू के कारण हो रहा है। जी हां, डेंगू का खौफ बरेलियंस में साफ दिख रहा है। किसी में वायरल फीवर होने पर भी डॉक्टर्स पेशेंट का डेंगू टेस्ट करा रहे हैं, हालांकि अधिकांश पेशेंट डेंगू पॉजिटिव नहीं निकल रहे लेकिन डर के चलते पेशेंट के तीमारदार उसे नारियल पानी और कीवी फल देना शुरू कर देते हैं। डॉक्टर्स भी नारियल पानी का सेवन करने के लिए कहते हैं। मरीजों को देने के इस फल को खरीदना काफी मुश्किल हो रहा है। फिलहाल, जल्द से जल्द सर्दी पड़ने का इंतजार कर रहे हैं ताकि एक दो डिग्री टेंप्रेचर गिरे और मच्छरों का प्रकोप कम हो।

6 गुना बढ़े मरीज

वर्ष 2018 में वायरल फीवर के साथ डेंगू के लक्षण वाले मरीजों की संख्या अधिक थी। डिस्ट्रिक्ट में डेंगू पॉजिटिव सिर्फ 27 मरीज ही मिले थे। लेकिन वर्ष 2019 में 10 नवंबर तक ही 167 पेशेंट डेंगू पॉजिटिव पाए गए हैं। इसीलिए बरेलियंस में डेंगू का खौफ साफ दिख रहा है। किसी को एक बार भी फीवर या मलेरिया होता है तो डेंगू के डर से एडवांस में कीवी फल और नारियल पानी लेने लगते हैं। फिलहाल डॉक्टर्स की मानें तो नारियल पानी सेहत के लिए काफी फायदेमंद है।

सर्दी बढ़ने पर कम होंगे मच्छर

डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल के वरिष्ठ फिजीशियन डॉ। वागीश वैश्य ने बताया कि मौसम में बदलाव जरूर हुआ है लेकिन अभी टेंप्रेचर मच्छरों के अनुकूल है। एक से दो डिग्री की गिरावट होने पर ही डेंगू का प्रकोप कम होगा। अभी भी डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में ओपीडी के दौरान फीवर के नये पेशेंट्स में डेंगू की पुष्टि हो रही है। वहीं, शासन की ओर से डेंगू के प्रकोप पर अंकुश लगाने के जो अभियान चलाने के निर्देश दिए गए हैं इन पर ठीक से अमल नही हो सका है। जिस कारण डेंगू का प्रकोप लगातार बढ़ रहा है। हैरत की बात तो यह है कि ओपीडी के दौरान ऐसे केस ज्यादा आ रहे हैं जिनको लंबे समय तक फीवर बने रहने के कारण प्लेटलेट्स डाउन हो रहे हैं।

डेंगू के पेशेंट को हाइड्रेशन मेंटेन रखना होता है जिसमें नारियल पानी काफी फायदेमंद होता है। इसीलिए नारियल पानी पीने के लिए बताया जाता है। मुझे नहीं लगता कि कीवी फल प्लेटलेट्स काउंट बढ़ाने में कारगर है।

डॉ। राजेश अग्रवाल, आईएमए अध्यक्ष

- नारियल पानी तो गर्मी में ज्यादा बिकता है। लेकिन अब ठंड की शुरुआत हो चुकी है फिर भी नारियल की डिमांड अधिक है। डॉ। डेंगू मरीजों को नारियल पानी का सेवन करने के लिए कह रहे हैं।

अमित, दुकानदार

- नारियल पानी सेहत के लिए तो अच्छा है ही। डॉक्टर भी इसका सेवन करने के लिए कह रहे हैं। मैं तो वैसे भी इसे पी रहा हूं। डेंगू के डर से लोग भी ऐसा ही कर रहे हैं। इससे डिमांड भी बढ़ी है।

विनोद

- कोई भी सीजन हो। नारियल पानी अच्छा लगता है, लेकिन इस समय तो डेंगू का असर कुछ अधिक चल रहा है इसीलिए नारियल ज्यादा पी रहे हैं।

दीपेंद्र

- जिस किसी को फीवर भी आता है, वह डेंगू न हो इससे डरता है और पहले ही से डेंगू का प्रकोप जिस क्षेत्र में अधिक है उस एरिया के लोग भी डरे हुए हैं।

- धर्मेन्द्र

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.