'कंगारू' रखेगा मां का ख्याल नवजात की भी करेगा देखभाल

2019-03-07T06:00:17Z

नंबर गेम

-4235 बच्चों का वर्ष 2018 में जिला अस्पताल में जन्म हुआ

-126 प्री मेच्योर बच्चों का साल 2018 में जन्म हुआ

-937 लो वेट बच्चों का जन्म साल 2018 में हुआ

- जिला महिला अस्पताल में कंगारू मदर केयर यूनिट का सीडीओ ने किया शुभारंभ

- प्री मेच्योर बेबी और लो वेट बर्थ बेबी को स्वस्थ बनाने के लिए नई पहल

बरेली : अगर आपका बच्चा प्री मेच्योर या फिर लो वेट पैदा हुआ है तो अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। जिला महिला अस्पताल में वेडनसडे को कंगारू मदर केयर यूनिट का शुभारंभ सीडीओ सत्येंद्र सिंह ने किया। महिला अस्पताल में डिलीवरी के बाद अगर नवजात प्री मेच्योर और लो वेट पैदा हुआ है तो उसे यहां पर बेहतर देखरेख की जाएगी। यूनिट में मां और नवजात की स्पेशल केयर कर स्वस्थ बनाया जाएगा।

यूनिट के फायदे

जिस तरह कंगारू अपने शरीर के कुदरती कवर में रखकर अपने बच्चे की सुरक्षा करता है, ठीक उसी तरह अब प्री मेच्योर बेबी की देखरेख कंगारू मदर केयर यूनिट में की जाएगी। यहां मां और नवजात के लिए अभी एक डॉक्टर और दो नर्स तैनात की गई है। यहां नर्स नवजात की मां को ब्रेस्ट फीडिंग का सही तरीका बताएगी। साथ ही नवजात को ज्यादा से ज्यादा मां की गोद में ही रखा जाएगा, जिससे बच्चा जल्दी रीकवर करे और स्वस्थ हो जाए। यूनिट में पांच बेड और दो स्पेशल रेस्टिंग चेयर रखी गई हैं।

ऐसे कराया जाएगा सुधार

1. नवजात को ज्यादा से ज्यादा मां का दूध पिलाया जाएगा।

2. बच्चे की नींद के पैटर्न पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।

3. हाईपोथर्मिया ट्रीटमेंट की विशेष सुविधा।

4. मां के कमजोर होने पर उसको एक्सरसाइज के माध्यम से हेल्दी बनाया जाएगा।

5. बच्चे को हर वक्त मां के संपर्क में ही रखा जाएगा।

2.5 लाख में तैयार हुई यूनिट

विभाग की ओर से इस यूनिट का प्रस्ताव मार्च 2018 में शासन को भेजा गया था। नवंबर में शासन की ओर यह प्रस्ताव पास कर दिया गया था। फरवरी 2019 में 2 लाख 50 हजार की लागत यूनिट बनकर तैयार हुई है। इस यूनिट में पांच बेड और दो रेस्टिंग चेयर हैं।

वर्जन ----

कंगारू मदर केयर यूनिट से प्री मेच्योर बेबी और लो वेट बेबी को विशेष उपचार मिलेगा। पहले यह सुविधा न होने से सिर्फ डाइट चार्ट फॉलो करने पर ही जोर देते थे, लेकिन अब विशेष उपचार मिलने से मां और बच्चे जल्दी स्वस्थ हो सकेंगे।

डॉ। अलका शर्मा, सीएमएस।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.