महिला रेलवे अधिकारी ने सहकर्मियों की प्रताड़ना से परेशान होकर दी जान

2019-04-15T10:45:23Z

उत्तर रेलवे डीआरएम दफ्तर में कार्यरत असिस्टेंट अकाउंटेंट ने अपने मकान की चौथी मंजिल से कूदकर जान दे दी

- 6 अधिकारियों और कर्मचारी पर लगाया आरोप

- मकान की चौथी मंजिल से लगाई छलांग

- कमरे से मिला एक पन्ने का सुसाइड नोट

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: उत्तर रेलवे डीआरएम दफ्तर में कार्यरत असिस्टेंट अकाउंटेंट ने आलमबाग स्थित अपने मकान की चौथी मंजिल से कूदकर जान दे दी. मौके पर पहुंची पुलिस को कमरे से एक सुसाइड नोट मिला. सुसाइड नोट में महिला अधिकारी ने दफ्तर के अधिकारियों और कर्मचारियों समेत पांच पर प्रताड़ना के साथ अभद्रता का आरोप लगाया है. साथ ही अपनी मौत का जिम्मेदार भी इन लोगों को बताया है. पुलिस का कहना है कि महिला के परिजन बिहार से आ रहे हैं. उनके आने के बाद ही रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी.

चौथी मंजिल से छलांग लगा दी जान
मूलरूप से बिहार के नालंदा निवासी सोनी कुमारी (30) हजरतगंज स्थित डीआरएम ऑफिस में पेंशन अनुभाग में असिस्टेंट अकाउंटेंट के पद पर कार्यरत थी. वह अकेले ही आलमबाग में बिजी कॉलोनी के तीसरे फ्लोर पर रहती थी. बताया जाता है कि रविवार सुबह सोनी ने चौथे तल से छलांग लगा दी. अचानक हुई इस घटना से वहां हड़कंप मच गया. मौके पर आलमबाग पुलिस के पहुंचने से पहले ही सोनी की मौत हो चुकी थी. पुलिस ने छानबीन के बाद सोनी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

परिजनों का कर रही पुलिस इंतजार
आलमबाग पुलिस जांच के लिए सोनी के फ्लैट पहुंची और छानबीन शुरू की. इस दौरान पुलिस को सोनी कुमारी के हाथ का लिखा सुसाइड नोट मिला. पुलिस ने सुसाइड नोट को अपने कब्जे में ले लिया है. आलमबाग पुलिस ने महिला के परिवार वालों को हादसे की खबर दे दी. रविवार देररात तक परिवार के लोग लखनऊ पहुंच जाएंगे. सीओ आलमबाग संजीव कुमार सिन्हा का कहना है कि परिवार वालों के आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

सुसाइड नोट में लगाया प्रताड़ना का आरोप
सीओ आलमबाग संजीव सिन्हा के मुताबिक मृतका के कमरे से एक पन्ने का सुसाइड नोट मिला है. मृतका ने दफ्तर में कार्यरत एसएसओ आदित्य शुक्ला पर काम न होने पर भी उलटे सीधे मैसेज भेजने और सबके सामने नीचा दिखाने का आरोप लगाया है. सोनी ने लिखा है कि उसको फंसाने के लिए ऑफिस में ऐसा माहौल बनाया गया, जिससे उसकी छवि खराब हो जाये. सोनी का आरोप है कि उसको दफ्तर में अभद्र गाने सुनाये जाते हैं. सुसाइड नोट में सोनी ने एसएसओ सोमेश मित्तल, आकाश कुमार, कमजेश कुमार, विवेक कुमार और अवधेश पर प्रताड़ना और हैरेसमेंट का गंभीर आरोप लगाया है.

28 मार्च को लिखा था सुसाइड नोट
असिस्टेंट अकाउटेंट सोनी कुमारी के पास से मिला सुसाइड नोट 28 मार्च को इंस्पेक्टर आलमबाग के नाम लिखा गया था. सुसाइड नोट में सोनी का यह भी आरोप है कि उसने अपने साथ कार्य स्थल पर होने वाली इस प्रताड़ना के बारे में अपने अफसरों को लिखित रूप से बताया था. उसकी लिखित शिकायत के बावजूद अधिकारियों ने मामले में कुछ नहीं किया और मजबूर होकर उसको आत्महत्या जैसा गंभीर कदम उठाना पड़ा. वहीं डीआएम एनआर सतीश कुमार ने कहा है कि रेलवे कर्मचारी पुलिस जांच में पूरा सहयोग करेंगे.


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.