नाराज डीएम ने रोक दिया वेतन

2019-07-10T06:00:33Z

-एसआरएन और डफरिन हॉस्पिटल के सीएमएस के खिलाफ हुई कार्रवाई

PRAYAGRAJ: जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में अनुपस्थित होने पर डीएम बीसी गोस्वामी ने डफरिन और एसआरएन हॉस्पिटल के सीएमएस का वेतन रोकने का आदेश दिया है। मंगलवार को वह सीएमओ ऑफिस में स्वास्थ्य विभाग के कार्यो की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने करछना में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की प्रगति पर नाराजगी जताते हुए स्पष्टीकरण तलब किया है। जननी सुरक्षा योजना में मेजा, मऊआइमा, कौडि़हार, सैदाबाद, आदि सीएचसी की प्रगति खराब होने पर उन्होंने कड़ी फटकार लगाई। कहा कि 90 फीसदी से कम प्रोग्रेस बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

इन पर भी जताई नाराजगी

प्रधानमंत्री सुरक्षा मातृत्व अभियान की प्रगति में कौंधियारा और मऊआइमा को फटकार लगायी। उन्होंने परिवार नियोजन, टीकाकरण, वीसीजी, मील्स एवं राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम में भ्रमण किये गये आंगनवाड़ी केन्द्रों में स्वास्थ्य परीक्षण किये गये बच्चो की संख्या की जानकारी ली। डीएम ने कहा कि थर्मामीटर और वेइंग मशीन की खराबी या एक्सपायर दवाएं बांटने की शिकायत मुझे नहीं मिलनी चाहिए। जो आशा बहुएं ठीक से काम नही कर रही हैं उनको भी निकाल दिया जाए।

मिला एक सप्ताह का समय

समीक्षा के दौरान डीएम ने कम प्रगति वाले प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को चेतावनी देने के साथ एक सप्ताह में सुधारने का निर्देश दिया। बैठक में डीएम सहित सीडीओ अरविंद सिंह, सीएमओ डॉ। मेजर गिरिजाशंकर बाजपेई, एसीएमओ डॉ। सतेंद्र राय आदि उपस्थित रहे।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.