रूट को क्यों कहनी पड़ी थी 'गे' की बात सस्पेंडेड गेंदबाज गैबरियल ने अब बताया पूरा सच

2019-02-15T10:53:33Z

वेस्टइंडीज बनाम इंग्लैंड टेस्ट मैच में जो रूट आैर शेनन गैबरियल के बीच हुर्इ नोंकझोंक की असलियत अब सामने आ गर्इ। दरअसल गैबरियल ने बताया कि उन्होंने एेसा क्या कह दिया था जिसके चलते रूट को 'गे' पर कमेंट करना पड़ा।

कानपुर। हाल ही में खत्म हुर्इ इंग्लैंड बनाम वेस्टइंडीज टेस्ट सीरीज के तीसरे मैच में काफी विवाद हुआ था। सेंट लूसिया में खेले गए इस टेस्ट में विंडीज गेंदबाज शेनन गैबरियल आैर जो रूट के मैदान में तीखी नोंकझोंक खूब चर्चा में रही। इस लड़ार्इ में गैबरियल को दोषी पाया गया आैर आर्इसीसी ने उन्हें चार मैच के लिए सस्पेंड कर दिया। गैबरियल ने अब माफी मांगते हुए उस पूरी घटना की कहानी बतार्इ है। दरअसल ये मामला तक सामने आया जब मैच के अफिशल ब्राॅडकास्टर ने जो रूट को यह बोलते हुए सुना कि, 'इसे बेइज्जती के रूप में मत लो। गे होने में कुछ गलत नहीं है।' रूट ने एेसा क्यों कहा था, इसको लेकर तमाम कयास लगाए जा रहे थे। मैच के बाद रूट से जब पूछा गया तो उन्होंने साफ कह दिया था कि मैदान की बात मैदान में रहें तो बेहतर है।

BREAKING: Windies bowler Shannon Gabriel has been suspended for the first four #WIvENG ODIs after being found guilty of breaching the ICC Code of Conduct.https://t.co/nfh31jlPbL

— ICC (@ICC) 13 February 2019


क्या तुम्हें लड़के पसंद हैं

इंग्लिश कप्तान रूट भले ही इस मामले पर चुप्पी साध गए। मगर अब गैबरियल ने रूट से माफी मांगते हुए पूरी कहानी दुनिया को बतार्इ। विंडीज गेंदबाज ने अपने माफीनामे में लिखा, 'मुझे लगता है मैं अपने फैंस आैर वेस्टइंडीज क्रिकेट को सपोर्ट करने वाले लोगों को सबकुछ सच बताऊं कि आखिर उस दिन हुआ क्या था। रूट के साथ मेरी बहस इसलिए हुर्इ क्योंकि मैदान पर काफी तनावपूर्ण माहौल था। रूट मैदान पर लगातार मुझे घूरे जा रहे थे, हालांकि यह लगभग सभी बल्लेबाजों की रणनीति होती है। जब बात हद से बढ़ गर्इ तब मैंने खुद को शांत करने के लिए रूट पर कमेंट किया। मैंने उनसे कहा-'तुम मुझे देखकर हंस क्यों रहे हो?क्या तुम्हें लड़के पसंद हैं?तब रूट ने जवाब दिया, 'गे होने में कोर्इ बुरार्इ नहीं'।
चार मैचों के लिए लगा बैन
आर्इसीसी ने गैबरियल को चार वनडे मैचों से बाहर कर दिया। गैबरियल को आर्टिकल 2.13 के तहत लेवल टू का दोषी पाया गया है। इसके तहत मैदान पर किसी खिलाड़ी या अंपायर पर पर्सनल कमेंट करने पर खिलाड़ी पर प्रतिबंध लगा दिया जाता है।
मैदान पर पर्सनल बात करने पर इस खिलाड़ी को ICC ने चार मैच के लिए बाहर निकाल दिया
तो दिनेश कार्तिक ने इसलिए नहीं लिया था सिंगल, अब हुआ खुलासा

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.