ट्रंप ने किया 'सचिन' के नाम का गलत उच्चारण, वो 5 क्रिकेटर जिनका नाम आप भी नहीं ले पाएंगे सही

2020-02-25T11:26:47Z

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मोटेरा स्टेडियम में आयोजित 'नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम में भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के नाम का गलत उच्चारण किया। ट्रंप ने सचिन को 'सुच्चिन' बुलाया जिसके बाद आईसीसी ने इसको लेकर एक मजाकिया अंदाज में ट्वीट भी किया। खैर ट्रंप क्रिकेट के भगवान का नाम सही से नहीं ले पाए मगर दुनिया के पांच क्रिकेटर ऐसे हैं जिनका नाम असल में काफी कठिन है।

कानपुर। भारत दौरे पर आए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम मोटेरा में 'नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम में शिरकत की। स्टेडियम में मौजूद एक लाख से ज्यादा लोगों के सामने ट्रंप ने भारत की जमकर तारीफ की। इस कड़ी में उन्होंने भारत के दिग्गज क्रिकेटरों सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली का भी नाम लिया। हालांकि इनके नाम का उच्चारण करते हुए ट्रंप से गलती हो गई। ट्रंप ने कोहली को जहां कोली बोला वहीं सचिन को सुच्चिन कहा। इसके बाद आईसीसी ने मजाकिया लहजे में सचिन के नाम के गलत उच्चारण को लेकर एक ट्वीट किया।

आईसीसी ने ली चुटकी

आईसीसी ने अपने ट्वीट में सचिन के कई नामों का जिक्र किया। इसमें बोर्ड ने Sach-Such-Satch-Sutch-Sooch जैसे नाम लिखे। खैर दुनिया के सबसे मशहूर क्रिकेटरों में शामिल हो चुके सचिन का नाम वैसे सबको पता है मगर कुछ इंटरनेशनल क्रिकेटर ऐसे हैं जिनका नाम असल में सही ले पाना काफी मुश्किल है।

Sach-
Such-
Satch-
Sutch-
Sooch-
Anyone know? pic.twitter.com/nkD1ynQXmF

— ICC (@ICC) February 24, 2020

Mpumelelo Mbangwa

पॉमी पुमेलेलो बांगवा जिम्बाब्वे के पूर्व क्रिकेटर रहे हैं। 43 साल के हो चुके पॉमी ने साल 1996 में इंटरनेशनल क्रिकेट में कदम रखा था। उन्होंने करीब छह साल तक जिम्बाब्वे के लिए क्रिकेट खेला। बांगवा तेज गेंदबाज रहे हैं। इस गेंदबाज ने 15 टेस्ट खेलकर 32 विकेट अपने नाम किए वहीं 29 वनडे मैचों में बांगवा ने 11 विकेट चटकाए। 2002 में आखिरी इंटरनेशनल मैच खेलने के बाद बांगवा क्रिकेट से बिल्कुल अलग नहीं हुए। रिटायरमेंट के बाद उन्होंने कमेंटेटर की भूमिका निभाई।

Lonwabo Tsotsobe

साउथ अफ्रीका के 35 वर्षीय खिलाड़ी लोनवाबो लॉप्सी सोत्सोबे तेज गेंदबाज रहे हैं। सोत्सोबे ने साल 2009 में साउथ अफ्रीकी क्रिकेट टीम में जगह बनाई। प्रोटीज टीम की तरफ से सोत्सोबे ने पांच टेस्ट खेले जिसमें उन्होंने 9 विकेट लिए। जबकि वनडे में उन्हें 61 मैचों में खेलने का मौका मिला और 94 विकेट चटकाए। वहीं टी-20 की बात करें तो इस गेंदबाज ने 23 मैच खेलकर 18 विकेट लिए। बता दें सोत्सोबे ने साउथ अफ्रीका के लिए आखिरी मैच 2014 में खेला था।

Warnakulasuriya Patabendige Chaminda Vaas

श्रीलंका के बेहतरीन तेज गेंदबाज रहे चमिंडा वास के बारे में आपने काफी सुना होगा। वास बाएं हाथ के पेसर रहे हैं। मगर उनका पूरा नाम वारनकुलसूर्या पाताबेडिंगे उसांता जोसेफ चमिंडा वास है। यह नाम इतना काफी कठिन है जिसका उच्चारण आसान नहीं है। चमिंडा वास ने श्रीलंका के लिए 111 टेस्ट खेले जिसमें 355 विकेट लिए। वहीं वनडे में उन्होंने 322 मैच खेलकर 400 विकेट चटकाए।

Faoud Bacchus

वेस्टइंडीज के पूर्व क्रिकेटर रहे शेख फाउद अहमुल फैजल बचूस का नाम भी काफी कठिन है। बचूस ने विंडीज टीम के लिए 1978 में डेब्यू किया। हालांकि उनका इंटरनेशनल करियर चार साल से ज्यादा नहीं चला। इस दौरान इस खिलाड़ी ने सिर्फ 19 टेस्ट और 29 वनडे खेले। टेस्ट में बचूस के नाम जहां 782 रन दर्ज हैं वहीं वनडे में इस बल्लेबाज ने 612 रन बनाए थे।

Eric Szwarczynski

नीदरलैंड के 37 वर्षीय क्रिकेटर एरिक स्टीफेन सेजवरजिंस्की छह साल से नेशनल टीम से बाहर हैं। एरिक ने अपनी टीम के लिए 41 वनडे खेले जिसमें 1102 रन बनाए। इस दौरान उनके बल्ले से शतक नहीं लेकिन 10 अर्धशतक जरूर आए। वहीं टी-20 की बात करें तो इस खिलाड़ी ने 14 मैच खेलकर 233 रन बनाए।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.