डबल एचीवमेंट ऑफ हेल्थ डिपार्टमेंट

2019-12-08T05:46:02Z

प्रदेश का नंबर वन मंडलीय हॉस्पिटल साबित हुआ काल्विन हॉस्पिटल

प्रतापपुर पीएचसी को यूपी में दिया गया दूसरा स्थान

PRAYAGRAJ: प्रयागराज में स्वास्थ्य विभाग को दोहरी सफलता हाथ लगी है। काल्विन हॉस्पिटल को एनक्वास (नेशनल क्वालिटी इंश्योरेंस स्टैंडर्ड) की ओर से प्रदेश में पहला स्थान दिया गया है। यहां दी जा रही बेहतर सुविधाओं के चलते काल्विन अगले तीन साल के लिए प्रदेश का बेस्ट मंडलीय हॉस्पिटल बन गया है। दूसरी सफलता प्रतापपुर की पीएचसी यानी प्राइमरी हेल्थ सेंटर को मिली है। इसे प्रदेश में दूसरी बेस्ट पीएचसी का अवार्ड दिया गया है।

सितंबर में आई थी टीम

केंद्र सरकार की ओर से एनक्वास की टीम को सितंबर में काल्विन हॉस्पिटल का सर्वे करने के लिए भेजा गया था। इसमें हैदराबाद की डॉ। भावना गुलाटी और अरुणाचल प्रदेश के डॉ। राजा डोडम शामिल थे। ्रउन्होंने हॉस्पिटल के वार्ड, किचन, टायलेट, लांड्री, ओपीडी आदि का निरीक्षण करने के बाद अपनी रिपोर्ट केंद्र को भेजी थी। इस तरह से एनक्वॉस की टीम ने प्रदेश के सभी मंडलीय हॉस्पिटल्स का सर्वे कर उनकी सुविधाओं का जायजा लिया था। शुक्रवार को आई रिपोर्ट में काल्विन को नंबर वन चुना गया और इसे सौ में से 89 नंबर दिए गए हैं। यह जानकारी होने के बाद काल्विन हॉस्पिटल के प्रशासन ने खुशी जताई है।

हर बेड पर मिलेंगे दस हजार

एनक्वास को केंद्र सरकार का नंबर वन सर्वे माना जाता है। इसमें नंबर वन चुने जाने के बाद काल्विन हॉस्पिटल को प्रति बेड दस हजार रुपए एक्स्ट्रा बजट दिया जाएगा। देश और विदेश के सभी वीआईपी ट्रीटमेंट में इस हॉस्पिटल को तरजीह दी जाएगी। अगर पेशेंट प्रयागराज या आसपास है तो उसे पहले यही रिफर किया जाएगा। वही प्रतापपुर को प्रदश्ेा में दूसरा स्थान हासिल होने के बाद तीन लाख रुपए का अतिरिक्त बजट दिया जा रहा है। इससे पीएचसी की रूपरेखा में बदलाव होगा।

काल्विन हॉस्पिटल को प्रदेश में मिला स्थान- पहला

कुल बेड की संख्या- 156

डॉक्टर्स की संख्या- 35

कुल मिले अंक- 89

प्रतापपुर पीएचसी को मिला स्थान- सेकंड

कुल मिले अंक- 88

कुल बेड की संख्या- 20

टीम ने हमारे हॉस्पिटल की सभी सुविधाओं को जायजा लिया था। प्रत्येक पहलू को परखा था। हमारी तैयारियां भी पूरी थीं। प्रदेश में पहला स्थान मिलना वाकर्ठ खुशी की बात है। यह बड़ी उपलब्धि है और इसे भविष्य में बनाए रखना हमारी प्राथमकता होगी।

डॉ। वीके सिंह, एसआईसी, काल्विन हॉस्पिटल

प्रतापपुर पीएचसी का काम बेहतर है। हमने एनक्वास की टीम के दौरे के पहले पूरी तैयारियां की थी। टीम वहां पर अच्छा काम कर रही है। इसका नतीजा सामने है। प्रदेश में दूसरी बेस्ट पीएचसी चुना गया है। इससे स्वास्थ्य विभाग में खुशी की लहर है।

डॉ। मेजर गिरिजाशंकर बाजपेई, सीएमओ, प्रयागराज

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.