एसएन में ईहॉस्पिटल एक अगस्त से

2018-06-25T06:00:27Z

आगरा। एसएन मेडिकल कॉलेज में अब मरीजों को जल्द ही ऑनलाइन की सुविधा मिल सकेगी। मरीज घर बैठे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करा सकेगें। जिला अस्पताल के बाद अब एसएन को ई-हॉस्पिटल में तब्दील करने की कवायत तेज है। अनुमान है कि ई-हॉस्पिटल की सुविधा एक अगस्त से चालू हो जाएगी। सरकार से ई-हॉस्पिटल के लिए 82 लाख 37 हजार रूपए का बजट पास किया गया है।

ओपीडी से होगी शुरूआत

जिला अस्पताल में ई-हॉस्पिटल की सुविधा की शुरूआत हो चुकी है। जिसके अंर्तगत प्रत्येक आने वाले मरीज का ऑनलाइन रिकार्ड रखा जाता है। एक क्लिक पर मरीज का पूरा रिकार्ड डाक्टर को मिल जाता है। इसी के नक्शे कदम पर अब एसएन निकल पड़ा है। एसएन मेडिकल कॉलेज में एक अगस्त से ई-हॉस्पिटल की सुविधा शुरू हो जाएगी। मरीज से संबधित प्रत्येक रिकार्ड कंप्यूटर पर दर्ज किया जाएगा। एसएन की ओपीडी में प्रत्येक दिन दो से ढाई हजार मरीज इलाज के लिए आता है। एसएन में शुरू होने जा रहे ई-हॉस्पिटल की सुविधा एसएन की ओपीडी से शुरू की जाएगी। सबसे पहले ओपीडी को इससे जोड़ा जाएगा। इसके बाद आईपीडी, फार्मेसी और एकाउंट डिपार्टमेंट को एक के बाद एक ऑनलाइन कर दिया जाएगा।

घर बैठे करा सकें गे रजिस्ट्रेशन

अभी तक एसएन में पर्चे बनाने के लिए लाइन लगती है। मरीज का रिकार्ड पर्चे पर ही रहता है। ऐसे में ऑनलाइन हो जाने से मरीज अपना ऑनलाइन पर्चा भी बनवा सकेंगे साथ ही डाक्टर को भी मरीज का रिकार्ड ऑनलाइन मिल सका करेगा।

नोडल आफिसरों को दिया जाएगा प्रशिक्षण

नए प्राचार्य के आने के बाद एसएन में नोडल आफिसर बनाए गए है। डाक्टरों समेत नोडल ऑफिसरों को ई व्यवस्था से जोड़ने के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा। ताकि ई-हॉस्पिटल की व्यवस्था एवं तकनीकियों से रूबरू हो सके।

रैक लगाने का चल रहा कार्य

ई-हॉस्पिटल की सुविधा शुरू करने के लिए इन दिनों रैक लगाने का कार्य तेजी से चल रहा है। 68 रैक लगाई जाएंगी। जिसमें अभी वर्तमान में 58 रैक लगाई जा चुकी है.साथ ही केबलिंग का कार्य भी चल रहा है। केबल छह फुट नीचे डाली जाएगी। जिसका कार्य प्रारंभ हो चुका है.जो एक अगस्त तक पूरा कर दिया जाना प्रस्तावित है। ई-हॉस्पिटल के लिए हब रूम तैयार किया जा चुका है।

प्रथम चरण में 46 कंप्यूटर रखें जाएंगे

एसएन में ई-हॉस्पिटल की सुविधा के प्रथम चरण में 46 कंप्यूटर को शामिल किया जाएगा। जिसके लिए 46 कंप्यूटर और 46 आपरेटर्स की आवश्यकता का प्रपोजल दिया गया है। मिस्सी कंपनी की सहायता से मेनपॉवर प्राप्त कराई जाएगी। एसएन के प्रिंसिपल जीके अनेजा के अनुसार एक अगस्त से ई-हॉस्पिटल की सुविधा प्रस्तावित है। ओपीडी से इसकी शुरूआत की जाएगी। मरीजों का डाटा एवं अन्य सुविधाएं इस मुहिम से मजबूत होंगी।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.