रेडियो पर सुना हार रही है टीम टैक्सी पकड़ अस्पताल से सीधे मैदान पहुंच गया खेलने

2019-02-13T10:49:03Z

क्रिकेट जगत में कर्इ खिलाड़ी आए आैर गए मगर पहचान सिर्फ उन्हें मिली जो कुछ खास कर गए। एेसे ही एक खास खिलाड़ी थे इंग्लैंड के एडी पेंटर। बाएं हाथ के बल्लेबाज पेंटर के बारे में कहा जाता है कि एक बार वो अपनी टीम को हारता देख अस्पताल से सीधे मैदान खेलने पहुंच गए।

कानपुर। इंग्लैंड के पूर्व भारतीय बल्लेबाज एडी पेंटर के लिए 13 फरवरी का दिन कभी नहीं भूलने वाला है। यह वो दिन था, जब एडी अपनी टीम को जिताने के लिए अस्पताल से भाग आए थे। साल 1933 की बात है, आॅस्ट्रेलिया में इंग्लैंड आैर कंगारु टीम के बीच एशेज सीरीज खेली जा रही थी। सीरीज का चौथा मैच ब्रिसबेन में खेला गया। इस मैच में आॅस्ट्रेलियार्इ टीम ने पहले खेलते हुए 340 रन बनाए। अब बारी थी इंग्लिश बल्लेबाजों की, इधर इंग्लैंड टीम बल्लेबाजी कर रही थी उधर बाएं हाथ के बल्लेबाज एडी पेंटर अस्पताल में भर्ती हो गए, उन्हें मुंह में टांसिल की शिकायत थी। पेंटर को लगा कि टीम के बाकी बल्लेबाज कंगारु गेंदबाजों का अच्छे से सामना कर लेंगे, मगर एेसा नहीं हुआ।
पायजामा पहने हुए अस्पताल से भागे

एडी पेंटर अस्पताल में इलाज के दौरान रेडियो पर कमेंट्री सुन रहे थे। अभी वह बेड पर आराम ही कर रहे थे कि रेडियो पर इंग्लिश बल्लेबाजों के खराब प्रदर्शन की खबर आर्इ। कंगारु गेंदबाजों के सामने इंग्लैंड के ज्यादातर बल्लेबाज जूझ रहे थे। एडी के कानों में जैसे ही ये खबर लगी वह अस्पताल में जिस हालत में थे, उसी में वहां से भाग खड़े हुए। एडी ने अस्पताल के बाहर आकर टैक्सी पकड़ी आैर तुंरत मैदान पर पहुंच गए। 198 रन पर 5 विकेट गिरने के बाद एडी मैदान पर बल्लेबाजी करने आए आैर दिन के अंत तक 24 रन बनाकर नाबाद लौटे।

टीम को दिलार्इ शानदार जीत

दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद एडी फिर अस्पताल पहुंचे आैर जो इलाज अधूरा छोड़कर आए थे उसे पूरा करवाया। मगर अगली सुबह तक एडी बिल्कुल फिट हो चुके थे आैर तीसरे दिन भी बल्लेबाजी की। एडी ने इस पारी में 83 रन बनाए। जिसकी बदौलत इंग्लिश टीम 356 रन पर पहुंच पार्इ। इसके बाद दूसरी पारी में कंगारु बल्लेबाज सिर्फ 175 रन पर सिमट गए। अब आखिरी पारी में इंग्लैंड को जीत के लिए 160 रन चाहिए थे। इंग्लिश बल्लेबाजों ने यह लक्ष्य चार विकेट खोकर हासिल कर लिया आैर इंग्लैंड ने यह मैच 6 विकेट से अपने नाम किया। इस जीत का श्रेय एडी पेंटर को जाता है।
टेस्ट में है करीब 60 का आैसत
इंग्लैंड के बाएं हाथ के धुरंधर बल्लेबाज रहे एडी पेंटर उन चुनिंदा क्रिकेटरों में शामिल हैं जिनका टेस्ट आैसत काफी अच्छा है। क्रिकइन्फो पर उपलब्ध जानकारी के मुताबिक, पेंटर ने 8 साल के टेस्ट करियर में कुल 20 मैच खेले जिसमें उन्होंने 59.23 की आैसत से 1540 रन बनाए। इसमें चार शतक आैर सात अर्धशतक भी शामिल हैं। टेस्ट में इनका हार्इएस्ट स्कोर 243 रन है।
जब श्रीलंका को हराने के लिए भारत-पाक क्रिकेटर एक टीम में खेले
आज ही पैदा हुआ था वो बल्लेबाज, जिसके शतक लगाने पर कभी नहीं हारा भारत



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.