कर्नाटक व‍िधानसभा चुनाव एक फ्लैट से म‍िले हजारों वोटर आईडी कांग्रेसबीजेपी एक दूसरे पर लगा रहे आरोप

2018-05-09T12:00:36Z

कर्नाटक व‍िधानसभा चुनाव से पहले बेंगलुरु के एक फ्लैट से 9 हजार से अध‍िक वोटर आईडी कार्ड म‍िले हैं। चुनाव आयोग द्वारा मामले की जांच की जा रही है। वहीं इन वोटर आईडी को लेकर कांग्रेस और भाजपा के बीच आरोपप्रत्‍यारोप का दौर शुरू हो गया है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा यह घटना हैरान करने वाली है।

राजराजेश्वरी नगर निर्वाचन क्षेत्र में 4 लाख से भी ज्यादा हैं मतदाता
बेंगलुरु (आईएएनएस)। मुख्य चुनाव अधिकारी संजीव कुमार ने कहा कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव से पहले इतनी बड़ी संख्या में वोटर आईडी मिलने का मामला गंभीर है। यहां के राजराजेश्वरी नगर निर्वाचन क्षेत्र से एक फ्लैट  9746 कार्ड मिले हैं। ये देखने में काफी हद तक असली लग रहे हैं। इस मामले में एफआईआर दर्ज होने के साथ ही इसकी जांच की जा रही है। चुनाव पैनल के तीन पर्यवेक्षकों ने पूरे फ्लैट का बारीकी से निरीक्षण किया। यहां पांच लैपटॉप, प्रिंटर और 2 स्टील ट्रंक भी बरामद हुए हैं। संजीव कुमार कुमार के मुताबिक इस राजराजेश्वरी नगर निर्वाचन क्षेत्र में 4,35,439 मतदाता हैं।
कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि मकान बीजेपी नेता के नाम
इस मामले पर कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने बुधवार को आरोप लगाया कि जिस फ्लैट से वोटर आईडी कार्ड बरामद हुए हैं वो बीजेपी नेता का घर है। यह फ्लैट नेता मंजुला नंजामुरी का है। इसमें मंजुला नंजामुरी का बेटा राकेश रहता है। खास बात तो यह है कि राकेश ने 2015 में बीजेपी के टिकट पर निगम चुनाव लड़ा था। हालांकि इसमें उसे हार मिली है। वहीं भाजपा ने कांग्रेस पर पलटवार करते हुए कहा है कि कांग्रेस ने 12 मई को विधानसभा चुनाव से पहले चुनाव जीतने की साजिश रची है। ऐसे में इस क्षेत्र के चुनाव रद किए जाएं। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा यह घटना हैरान करने वाली  है।

पटना की नॉन आईआईटीयन मधुमिता को गूगल ने दी एक करोड़ की नौकरी

CJI पर महाभियोग नोटिस रद मामला : सुप्रीम कोर्ट में 45 मिनट बहस के बाद कांग्रेस ने वापस ली याचिका


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.