एसईई के रिजल्ट में बिखरा राजधानी के तेजस का तेज

2019-06-04T10:06:18Z

यूपी स्टेट एंट्रेंस एग्जाम2019 का रिजल्ट जारी कर दिया गया है। वहीं गाजियाबाद के प्रशांत मिश्रा बने ओवरऑल टॉपर

नंबर गेम
- 1,66,264 कैंडीडेट्स परीक्षा के लिए हुए थे रजिस्ट्रड

- 1,50,145 कैंडीडेट्स ने दिया था एग्जाम   
- 1,34,377 कैंडीडेंट्स परीक्षा में हुए पास
- 37612 छात्राओं को यूपीएसईई में मिली सफलता
- 96762 छात्रों को यूपीएसईई में मिली सफलता
- 27.99 प्रतिशत छात्राएं हुई पास
- 72.008 प्रतिशत छात्रा हुए पास
lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: यूपी स्टेट एंट्रेंस एग्जाम-2019 (यूपीएसईई) का रिजल्ट सोमवार को प्राविधिक शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन ने जारी किया। इसमें गाजियाबाद के प्रशांत मिश्रा ने बीटेक में पहला स्थान प्राप्त किया। वहीं दूसरे नंबर पर भी गाजियाबाद के अरविंद अग्रवाल रहे, जबकि तीसरे नंबर पर फरीदाबाद के धैर्य गुप्ता रहे। बीटेक में राजधानी के तेजस वैश्य को स्टेट में नौवां स्थान जबकि राजाधानी में पहला स्थान मिला है। वहीं छात्राओं के टॉप टेन प्लेस की बात करें तो, पहला स्थान गाजियाबाद की कीर्ति वर्मा को मिला जबकि ओवरऑल रैंक 26वीं रही। वहीं छात्राओं के टॉप टेन में चौथे व पाचवें नंबर पर क्रमश: अदिति गुप्ता और ज्योत्सना श्रीवास्तव रही। दोनों को स्टेट लेवल पर क्रमश 50 व 51 पोजिशन हासिल की।
600 से अधिक संस्थानों में एडमिशन
एकेटीयू के 600 से अधिक इंजीनियङ्क्षरग और मैनेजमेंट कॉलेजों के लिए एसईई का एग्जाम कराया गया था। प्राविधिक शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन ने बताया कि एसईई में 8 पेपरों में 1,66,264 कैंडीडेट्स रजिस्टर्ड थे। इसमें 1,50,145 कैंडीडेट्स एग्जाम में शामिल हुए, जिसमें 1,34,377 कैंडीडेट्स सफल हुए। सफल कैंडीडेट्स में 37612 गल्र्स और 96762 ब्वॉयज हैं।
विभिन्न कोर्सेस के टॉपर
बीटेक - गाजियाबाद के प्रशांत मिश्रा पहले और अरविंद अग्रवाल को दूसरा स्थान मिला।
बीफार्मा - सुल्तानपुर के मो। शोएब पहले और आगरा की शिवांगी दूसरे स्थान पर रहीं।
बीआर्क - साउथ वेस्ट दिल्ली की सेषा मोंगा पहले और हापुड़ की विदित सिंघल दूसरे स्थान पर।
एमबीए - झांसी के संदीप सिंह पहले और मथुरा के पियुष सिंघल दूसरे स्थान पर।
एमसीए - वाराणसी के अंकुर दुबे और लखनऊ के शिवम बिशेन और जालौन के यश पुरवार संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर।
चार राउंड में काउंसिलिंग
वीसी प्रो। पाठक ने बताया कि एसईई में एडमिशन के लिए 26 जून से काउंसिलिंग शुरू होगी। काउंसिलिंग चार चरणों में होगी। काउंसिलिंग पूरी होने के बाद कॉलेजों को सीटें भरने के लिए डायरेक्ट एडमिशन का ऑप्शन ओपन किया जाएगा। गर्वमेंट कॉलेजों की खाली सीटों को भरने के लिए स्पॉट काउंसिलिंग भी इसी समय शुरू की जाएगी। 26 जुलाई से एकेटीयू अपना नया सेशन शुरू करेगा।
बीटेक में राजधानी के टॉपर
नाम    ओवरऑल रैंक
तेजस वैश्य    9
अर्थ राज    12
प्रत्युष साहन 13
सौरभ गुप्ता    20
प्रखर सिंह     32
किस कोर्स में कितनी पास
कोर्स    कैंडीडेट    पास    पास प्रतिशत
बीटेक    86915    78331    90.12 प्रतिशत
बीफार्मा    19457    16533    84.97 प्रतिशत
बीआर्क    4159    4092    98.39 प्रतिशत
एमबीए    7150    7016    98.13 प्रतिशत
एमसीए    1828    1799    98.41 प्रतिशत
टॉप 200 को लैपटॉप
प्राविधिक शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन ने रिजल्ट जारी करते ही घोषणा की कि मंत्रालय यूपीएसईई 200 टॉपर्स को लैपटॉप देगा। दोनों ही रिजल्ट में 100 ओवरआल टॉपर, सौ छात्र-छात्राओं को जो एडमिशन लेंगे। वहीं सौ एससी-एसटी के टॉपर्स को लैपटॉप मिलेगा।
बीटेक में दस हजार सीटें घटीं
प्राविधिक शिक्षा के प्रमुख सचिव भुवनेश कुमार ने बताया कि इस बार एकेटीयू से संबद्ध इंजीनियरिंग कॉलेजों में बीटेक की 10 हजार सीटें कम हुई हैं। वहीं बीफॉर्मा की 12 हजार सीटें बढ़ी हैं। 2018 में बीटेक में 87803 छात्र पास हुए थे इस बार 78475 छात्र ही बीटेक में एडमिशन के लिए क्वालिफाई कर सके हैं।
अजीत डोभाल बने रहेंगे NSA, सरकार ने दिया प्रमोशन मिला कैबिनेट मिनिस्टर का दर्जा
महिलाएं मेट्रो और बस में कर सकेंगी मुफ्त सफर, दिल्ली सीएम ने किया ऐलान
बीते साल से तुलना
कोर्स    पहले सीटें    इस बार सीटें
एमटेक पार्ट टाइम 70    70
एमटेक    4305    3778
एमफॉर्मा    845    829
बीटेक    87803    78475
बीफॉर्मा    9999    21443
बीआर्क    644    550
बीएचएमसीटी 672    612
एमबीए    31059    28317
एमसीए    4485    4317



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.