बीसलपुर जा रही बस में छाया धुआं कूदकर भागे यात्री

2019-10-20T05:46:04Z

- बीसलपुर जा रही बस में धुआं छाते ही खिड़कियों से कूदकर भागे यात्री

- एक महिला यात्री हुई बेहोश, ड्राईवर कंडक्टर बस छोड़कर भागे

बरेली : वर्कशॉप से चेकिंग के बाद बस रवाना करने के दावे की पोल खुल गई है। रूहेलखंड डिपो की बीसलपुर जाने के लिए एक बस संडे को देर शाम निकली थी। वह सेटेलाइट बस स्टैंड से चंद किमी दूर दोहरा चौराहे पर पहुंच ही पाई थी कि उसके अंदर धुआं छाने लगा। यात्रियों को समझते देर न लगी कि बस में आग लग गई है। अफरा-तफरी के बीच बस के शीशें तोड़ कूदना शुरू कर दिया। ड्राईवर कंडक्टर बस छोड़कर भाग निकले। महिला यात्री समरी बेहोश हो गई। भगदड़ के कारण कुछ यात्रियों को मामूली चोटें भी पहुंची हैं।

अधिकारी अनजान, यात्री परेशान

घटना से परिवहन निगम अधिकारी देर रात तक अनजान रहे। वहीं, यात्री बस के पास खड़े होकर रात आठ बजे तक परेशान रहे। वे किसी तरह ऑटो, बस रोककर गंतव्य के लिए रवाना हुए। यात्रियों का कहना था कि बस में धुआं उठते हुए चीख पुकार मच गई। लोग कूदकर भागे।

लगेज ले जाने के नाम पर खेल

परिवहन निगम की बस में लगेज ले जाने के नाम पर चल रहा खेल जारी है। अधिकारियों की सख्ती का असर बस में नहीं दिखा, क्योंकि करीब 20 से ज्यादा लगेज के बोरे बसों के ऊपर रखे गए थे। इनमें ज्यादातर सेब के बोरे थे, जो कश्मीर से आए थे और बीसलपुर जा रहे थे। यात्री राजिद, असलम, गयासुद्दीन आदि का आरोप था कि बोरे 10-10 रुपये के हिसाब से रखे गए थे।

वर्जन

ड्राईवर ने बताया कि इंजन में आवाज आ रही है। इसके लिए मैकेनिक को भेजा गया। मैं मौके पर गया भी था। जहां बताया गया कि बस में सिर्फ भांप उठी थी.- भुनेश्वर कुमार, एआरएम, रुहेलखंड डिपो

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.