कई राउंड चली गोली से थर्राया इलाका

2019-07-11T11:00:02Z

छ्वन्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र: बाराद्वारी स्थित एपेक्स हास्पिटल के सामने बुधवार को दोपहर बाद अचानक गोलियों की तड़तड़ाहट से अफरा-तफरी मच गई थी। डॉक्टर एस कुंडू बदहवास भागते हुए हास्पिटल में दाखिल हुए और बदमाश-बदमाश चिल्लाते हुए अपने चैंबर में घुस गए। घटना के बाद एपेक्स में मौजूद कर्मचारी, मरीज और मरीजों की देखभाल के लिए आए तीमारदार सब दहशत में आ गए।

गार्ड और तीमारदारों ने बाहर की तरफ झांका तो पता चला कि दो बदमाश बाइक से भाग रहे हैं। एपेक्स का गार्ड बेहद डरा हुआ था। वो बोल नहीं पा रहा था। घटना के बारे में बताते हुए उसकी आवाज ही नहीं निकल रही थी। बाद में उसने बताया कि घटना के समय एक पल के लिए तो उसके पैरों तले जमीन खिसक गई। रिसेप्शन में उस वक्त रुखसाना बैठी थीं। गोली चलने पर वो भी कांप गई। एपेक्स में इलाज कराने आए एक मरीज काशीडीह के राजकुमार बताते हैं कि हास्पिटल में सब डरे हुए थे। सबको डर था कि कहीं बदमाश हास्पिटल के अंदर न आ जाएं। ऐसा हुआ तो कोई बड़ी अनहोनी हो जाएगी। बदमाश भाग गए तो लोगों को राहत मिली। लेकिन, फिर भी आशंका थी कि कहीं बदमाश फिर न पलट कर आ जाएं और कोई बड़ी घटना हो जाए। जब सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट सीतारामडेरा की पुलिस को लेकर मौके पर पहुंचे तब जाकर लोगों की जान में जान आई।

सीसीटीवी में कैद हो गई है घटना

एपेक्स हास्पिटल के सामने डॉक्टर एस कुंडू पर फाय¨रग की घटना सीसीटीवी में कैद है। सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट ने एपेक्स हास्पिटल पहुंच कर डॉक्टर एस कुंडू से पूछताछ करने के बाद सीसीटीवी कैमरे के फुटेज देखे। उन्होंने कई एंगल से फुटेज

कर रहे थे इंतजार

डॉक्टर एस कुंडू ने बताया कि हमलावर हास्पिटल के सामने पहले से ही खड़े थे। वो उनका इंतजार कर रहे थे। जैसे ही वो पहुंचे उन पर फाय¨रग कर रंगदारी देने की बात कही गई। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार डॉक्टर एस कुंडू के हास्पिटल पहुंचने पर एक हमलावर बाइक पर ही बैठा रहा जबकि, दूसरा हमलावर अपने दोनों हाथों में रिवाल्वर लेकर डॉक्टर के पीछे आया और गोलियां चलाई।

डॉक्टर को डराया

डॉक्टर से रंगदारी मांगे जाने की घटना को हल्के में लेने वाली पुलिस गोलीबारी की घटना को भी गंभीरता से नहीं ले रही है। पुलिस इस घटना को भी शरारती तत्वों की हरकत बता रही है। फाय¨रग की घटना के बाद एपेक्स हास्पिटल पहुंचे सिटी एसपी ने मामले में फाय¨रग से इंकार किया। उन्होंने पत्रकारों को बताया कि कोई शरारती तत्व डॉक्टर एस कुंडू को डराने की कोशिश कर रहा है। उसने खिलौने वाली पिस्टल से डॉक्टर पर गोली चलाने की एक्टिंग की है। सिटी एसपी ने कहा कि ऐसा वो अनुभव, सीसीटीवी कैमरे की फुटेज और गोली चलने की आवाज को परखने के बाद ही कह रहे हैं। सिटी एसपी ने पत्रकारों को बताया कि डॉक्टर एस कुंडू से रंगदारी मांगने के मामले में पुलिस कार्रवाई कर रही है। मोबाइल ट्रेस किया गया था जो छीना हुआ निकला। बदमाशों की तलाश में पुलिस ने मंगलवार की रात भी कई ठिकानों पर छापामारी की थी।

नहीं मिला बॉडीगार्ड

सिटी एसपी ने पत्रकारों को बताया कि पुलिस ने डॉक्टर एस कुंडू से रंगदारी मांगे जाने के बाद ही उन्हें बॉडीगार्ड दे दिए थे। जबकि, हकीकत ये है कि एपेक्स हास्पिटल के सामने फाय¨रग की घटना होने तक डॉक्टर एस कुंडू को बॉडीगार्ड नहीं मिला था। बॉडीगार्ड के बारे में पूछे जाने पर डॉ। एस कुंडू ने सिर्फ ये कहा कि उन्हें पुलिस से मदद मिल रही है।

डटेंगे, नहीं झुकेंगे

घटना के बाद डॉक्टर एस कुंडू ने कहा कि एमजीएम अस्पताल, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन आदि संस्थाएं उनके साथ हैं। वो किसी कीमत पर नहीं झुकेंगे। वो डट कर हालात का सामना करेंगे। डॉक्टर ने एस कुंडू ने कहा कि उनकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं है। ना ही किसी मरीज या उसके परिजन से उनका कभी किसी तरह का विवाद हुआ है। उनके पीछे कौन पड़ा है कुछ समझ में नहीं आ रहा।

ओल्ड एज होम का बंद हो गया था गेट

एपेक्स के सामने ओल्ड एज होम आशीर्वाद भवन है। आशीर्वाद भवन में एक कार्यक्रम की तैयारी चल रही थी। लेकिन, फाय¨रग की घटना होते ही आशीर्वाद भवन का गेट बंद कर दिया गया और पुलिस के आने तक सभी लोग अंदर ही रहे।

बदमाशों ने दी धमकी

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार डॉक्टर एस कुंडू पर फाय¨रग करने वाले बदमाश एपेक्स हास्पिटल के सामने पहले से घात लगा कर खड़े थे। लोग बताते हैं कि जैसे ही डॉ एस कुंडू वहां पहुंचे बाइक पर पीछे बैठा बदमाश उतरा और डॉक्टर के पीछे आया और ललकारते हुए फाय¨रग करने के साथ ही रंगदारी नहीं देने पर धमकी दी। बताते हैं कि बदमाश आए और डा। एस कुंडू पर फाय¨रग करने के बाद डॉक्टर को पांच लाख रुपये की रंगदारी देने और नहीं देने पर जान लेने की धमकी देने के बाद निकल गए। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार बदमाशों ने ये काम पांच मिनट में किया और निकल गए। डॉक्टर एस कुंडू ने बताया कि उन्हें फोन पर रंगदारी देने और नहीं देने पर अगवा कर जान से मारने की धमकी मिली थी। उनकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं है।

मिलने पहुंचे उप अधीक्षक

एपेक्स हॉस्पिटल में डॉक्टर एस कुंडू पर फाय¨रग के बाद एमजीएम अस्पताल के उप अधीक्षक डा। नकुल चौधरी और अन्य डाक्टर उनसे मिलने पहुंचे। सभी ने डा। एस कुंडू को ढाढस बंधाया और कहा कि सभी उनके साथ हैं। उन्हें डरने की जरूरत नहीं है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.