अब नहीं चलेंगी 15 वर्ष पुरानी गाडि़यां

2019-02-15T06:00:06Z

PATNA: गुरुवार को विधान परिषद में डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा कि दिल्ली की तर्ज पर बिहार में भी 15 वर्ष से अधिक पुरानी गाडि़यों का परिचालन बंद होगा। इसे लेकर राज्य सरकार सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर करेगी। साथ ही 200 नए वाहन प्रदूषण जांच केंद्र स्थापित होंगे। पेट्रोल पम्प व सर्विस सेंटर पर प्रदूषण जांच यंत्र रखना अनिवार्य होगा।

डिप्टी सीएम ने विप में केदारनाथ पांडेय, रामचन्द्र पूर्वे, संजीव कुमार सिंह और संजय सिंह के ध्यानाकर्षण व अल्पसूचित प्रश्न के जवाब में कहा कि संप्रति तारामंडल के पास ही प्रदूषण मापने की एक मशीन स्थापित है। इतनी ही क्षमता की चार मशीनें एयरपोर्ट, कंकड़बाग, इको पार्क और दीघा में स्थापित होंगी। इससे प्रदूषण स्तर का वास्तविक आंकड़ा मिल सकेगा। बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण पर्षद द्वारा पटना, मुजफ्फरपुर और गया में अनवरत परिवेशीय वायु गुणवत्ता प्रबोधन केन्द्र के माध्यम से परिवेशीय वायु गुणवत्ता का आकलन किया जाता है। आंकड़ों के मुताबिक 3 वर्ष में पटना, मुजफ्फरपुर व गया के परिवेशीय वायु में छोटे कण पदार्थ के स्तर में वद्धि नहीं हुई है। वाहनों से होने वाला उत्सर्जन भी वायु प्रदूषण का कारण है। इससे बचने के लिए पटना के 5 आउटलेट से सीएनजी की आपूर्ति कार्य प्रक्रिया में है। वायु प्रदूषण रोकने के लिए सड़कों को पक्का किया जा रहा है।

अमीन के सवाल पर विपक्ष ने किया हंगामा

अमीन के सवाल पर गुरुवार को विधानसभा में जोरदार हंगामा हुआ। हंगामे के बीच विपक्ष वेल में पहुंच गया। शोरशराबे के बीच सदन का प्रश्नकाल बाधित हो गया। सदन की कार्रवाई बीच में ही बारह बजे तक के लिए स्थगित करनी पड़ी। वैसे इस प्रश्न को जदयू के श्याम रजक ने उठाया था। लेकिन, पूरा विपक्ष इसमें शामिल हो गया। विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री रामनारायण मंडल को कहा कि भर्ती एजेंसी बिहार संयुक्त प्रतियोगिता परीक्षा पर्षद के साथ बैठक कर नियुक्ति में तेजी लाने का उन्हें विशेष निर्देश दें। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव ने कहा कि एक ओर सीएम लगातार यह कहते रहे हैं कि जमीन के विवाद की वजह से अपराध की घटनाएं हो रही है, वहीं दूसरी ओर सरकार अमीनों की नियुक्ति को लेकर गंभीर नहीं है। राजस्व विभाग बिहार में विधि-व्यवस्था की स्थिति की भी चिंता नहीं करता। राजद के अब्दुल बारी सिद्दीकी ने भी अमीन का मामला उठाया।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.