नियमित कचरा उठे तो बात बने

2019-10-20T05:46:09Z

JAMSHEDPUR: स्टील सिटी में शहर के लोग फेस्टिव मूड में आ चुके हैं, लेकिन त्योहार होने पर भी शहर में साफ-सफाई नहीं दिख रही है। बताते चले कि शहर के विभिन्न इलाकों में नियमित उठाव नहीं होने और डस्टबिन हटाये जाने के कारण पूरे शहर में गंदगी पसरी पड़ी है। दैनिक जागरण आईनेक्स्ट और रेडियो सिटी 91.1 ने मिलकर शहर के लोगों को जागरुक करने के उद्देश्य से बिन में फेंक अभियान चला रहा है। अभियान के 8वें दिन शनिवार को शहर के विभिन्न इलाके के लोगों ने वाट्सएप के जरिये अपने इलाके में फैली गंदगी के बारे में अवगत कराया है। स्टील सिटी के लोगों से अपील है कि अगर आपके इलाके में कहीं पर कूड़ा पड़ा हो हमें फोटो और नाम से साथ भेजे।

मानगो गोलचक्कर

शहर के मानगो गोलचक्कर बाजार के पास कूड़ा लगा हुआ है। स्थानीय लोगों ने बताया कि घर-घर कूड़ा उठाने का काम एजेंसी को दिया गया है। जिससे गलियों की सफाई और बाजार से कूड़ा उठाने वाले कर्मचारियों की संख्या कम कर दी गई है। इलाके में लगे बकेट और डस्टबिन की संख्या कम होने से लोग इधर-उधर कूड़ा फेंक रहे है।

मानगो नगर निगम के साथ शहर में फैली गंदगी के लिए आम लोग भी जिम्मेदार है। घरों के कूड़े को लोग सड़क और खाली प्लाट में फेंक रहे है। मानगो नगर निगम के कर्मचारियों को चाहिये कि क्षेत्र की हर गली में जाकर लोगों से बात कर उनकी समस्याओं को निदान करें, जिससे क्षेत्र में गंदगी कम होगी।

बंटू महतो, मानगो

कदमा में कॉलोनी किनारे लगा कूड़ा

शहर में गंदगी के लिए पब्लिक और शहर की व्यवस्था दोनों ही जिम्मेदार है, जिसके चलते पूरा शहर गंदगी का ढेर बनता चला जा रहा है। स्थानीय लोगों ने बताया कि जुस्को एरिया होने के कारण कभी साफ सफाई की इतनी समस्या नहीं हुई है लेकिन शनिवार को सब्जी मार्केट में एक महिला कूड़े के बगल में बैठकर सब्जी बेच रही थी। क्षेत्र में नियमित सफाई की जरूरत है।

पहले कई स्थानों पर बकेट और डस्टबिन लगाये गये थे जिन्हें डोर टू डोर के कलेक्शन के चक्कर में हटा दिया गया है। इससे पूरे शहर में गंदगी फैल रही है। जिसके चलते लोग खाली प्लाट और सड़क किनारे ही कूड़ा फेंक देते हैं।

डॉ दीपांजय श्रीवास्तव

सोनारी मरीन ड्राइव

शहर के सोनारी स्थित मरीन ड्राइव रोड में जगह-जगह कूड़े का अंबार लगा हुआ है। स्थानीय लोगों ने बताया कि पंचायत क्षेत्र में कूड़ा उठान की कोई भी व्यवस्था नहीं है। जिसके चलते लोग इधर-उधर कूड़ा फेंकते है। पंचायत इलाके में बकेट और डस्टबिन की व्यवस्था न होने के कारण लोग तालाबों और सड़क किनारे ही लोग फेंकते है। यहां पर गंदगी होने पर पूरे दिन गंदे जानवरों का जमवाड़ा लगा रहता है।

मरीन ड्राइव एरिया में जो लोग रहते उन्हे देखकर बड़ा ही दुख होता है कि वह इतनी गंदगी में कैसे रहते होंगे। इतनी गंदगी में रहने से वह लोग बीमार हो सकते है। जेएनएसी के अधिकारी शहर में साफ-सफाई के प्रति कोई ध्यान नहंी दे रहे है। अगर हम अपने अस्पतालों को ही साफ-सफाई नहीं दे पाएंगे तो कैसे शहर को साफ रख पाएंगे।

साकची फ्लैट पर ही गंदगी

शहर के साकची स्थित एक फ्लैट में नीचे गंदगी का अंबार लगा हुआ है। फेस्टिव सीजन में शहर की साफ सफाई न होने से पूरे शहर की गलियां गंदी पड़ी है। कूड़ा का उठान नियमित न होने से लोग आग लगाकर जला देते है। स्थानीय लोगों ने यहां कूड़ा सभी फ्लैट के लोग डालते है, जब सभ्य लोग ही इस तरह गंदगी फैलाते हैं, तो दूसरों को क्या कहा जा सकता है। लेकिन इस तरह गंदगी करना शहर के लेागों के शर्मनाक है।

सभ्य समाज से फ्लैट में इस तरह की गंदगी करने की आशा नहीं की जा सकती है। क्षेत्र के साथ ही पूरे शहर में गंदगी की यही स्थित है। डिब्बे न होने के कारण लोग इधर-उधर कूड़ा फेंक देते हैं। जेएनएसी अधिकारियों को चाहिये कि क्षेत्र में बकेट और डस्टबिन दोनों ही लगाये जाये, जिससे लोगों को इसका लाभ मिल सके।

मंजू, साकची

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.