आप एप्लीकेशन दीजिए डीएम साहब बताएंगे कब और कितने रुपए मिलेंगे

2019-11-14T05:46:03Z

- नूतन राजधानी अंचल में जलजमाव से प्रभावित लोगों के क्लेम के लिए लगा शिविर, आज पाटलिपुत्र अंचल में लगेगा शिविर

PATNA : सर, बाढ़ में मेरा घर में पानी घुस गया था। घर का सारा सामान खराब हो गया। बड़ी मुश्किल से सब जमा किया था। मुआवजे के लिए मैंने एप्लीकेशन दे दिया है अब पैसे कब मिलेंगे। देखिए, यहां हम सिर्फ एप्लीकेशन ले रहे हैं। डीएम साहब के पास से ही फाइनल होगा कि आपको कितने रुपये मिलेंगे और कब मिलेंगे। यह सब चल रहा था बुधवार को पटना नगर निगम के नूतन राजधानी अंचल कार्यालय में।

55 क्लेम में 17 आवेदनों का हुआ डिस्पोजल, 2 लाख 46 हजार क्लेम हुआ मंजूर

जलजमाव की त्रासदी झेल चुके पटना को निगम और इंश्योरेंस कंपनियों की तरफ से राहत दी जा रही है। पटना के हर अंचल में राहत शिविर लगाया जाएगा। बुधवार को नूतन राजधानी अंचल कार्यालय में कैंप लगाया गया। दिन भर में कुल 55 लोगों ने आवेदन दिया जिनमें 17 लोगों का डिस्पोजल किया गया। अन्य मामलों के लिए आवेदन ले लिया गया है जिस पर कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही क्लेम करने वाले लोगों को 2 लाख 46 हजार रूपये की राशि भी सौंपी जाएगी।

कम रही लोगों की उपस्थिति

राहत कैंप के पहले दिन लोगों की उपस्थिति कम ही देखने को मिली। सुबह से इक्के दूक्के लोग ही कैंप में नजर आए । शाम तक मुश्किल से 55 की संख्या हुई। इसके मुकाबले निगम और इंश्योरेंस कंपनियों के कर्मचारी ही कैंप में नजर आते रहे। जागरूकता का आभाव हो या फिर जलजमाव में कम क्षति जिसके कारण कैंप के पहले दिन कम ही लोग उपस्थित रहे।

नहीं ले पाएं है क्लेम तो यहां लगेंगे कैंप

गुरूवार 14 नवंबर - पाटलिपुत्रा अंचल कार्यालय

शुक्रवार 15 नवंबर - प्रेमचंद रंगशाला राजेन्द्र नगर

शनिवार 16 नवंबर - टेम्पू स्टैंड कंकड़बाग अंचल कार्यालय

रविवार 18 नवंबर -अनुमंडल कार्यालय दानापुर

शिविर में नौ बीमा कंपनियों के प्रतिनिधि हुए शामिल

नेशनल इंश्योरेंस कंपनी, जनरल इंश्योरेंस कंपनी, ओरियंटल इंश्योरेंस समेत नौ बीमा कंपनियों के प्रतिनिधियों ने शिविर में भाग लिया। कई निजी कंपनियां शामिल नहीं हुई। जलजमाव के दौरान क्षति के लिए आए एप्लीकेशन में 32 गाडि़यों के बीमे से संबंधित थे। उन आवेदकों के आवेदन लेने के बाद पूछा जा रहा था कि क्या आपने पानी निकलने के बाद वाहन को स्टार्ट किया था या फिर टोचन करके सर्विस सेंटर तक लेकर गए थे? वाहन स्वामी हां या न, कुछ भी कहें, प्रतिनिधियों का जवाब होता- सर्वेयर की रिपोर्ट पर देखी जाएगी, बीमा की राशि मिलेगी या नहीं। शिविर में आए लगभग तमाम वाहन स्वामी बीमा की रकम कब तक मिलेगी और पूर्व में दिए गए आवेदन की अद्यतन स्थिति क्या है? इसका पता करने पहुंचे थे।

कंडम वाहनों का रद होगा रजिस्ट्रेशन

परिवहन विभाग के प्रतिनिधियों को शिविर में इसलिए बुलाया गया था कि उनकी रिपोर्ट पर कंडम वाहनों का रजिस्ट्रेशन रद किया जा सके। वैसे लोग जो 15 साल पुरानी गाड़ी के बीमा का दावा करने के लिए आने वाले थे, उनके वाहन सही स्थिति में हैं या नहीं? इसकी रिपोर्ट एमवीआई से तैयार कराई जाती है। इसके अलावा उन गाडि़यों की भी एमवीआइ रिपोर्ट तैयार करते हैं, जो पूरी तरह बर्बाद हो चुकी थी। बीमा की राशि मिलने के बाद उन वाहनों का रजिस्ट्रेशन रद कर दिया जाता है। हालांकि, एमवीआई को रजिस्ट्रेशन रद करने से संबंधित एक भी आवेदन नहीं प्राप्त हुआ।

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.