घरेलू सराफा बाजार में रिकाॅर्ड स्तर पर आया उछाल, सोना 1,365 रुपये और चांदी 5,972 रुपये महंगा

Updated Date: Wed, 05 Aug 2020 05:24 PM (IST)

इंटरनेशनल मार्केट में बढ़त की वजह से घरेलू सराफा बाजार में रिकाॅर्ड स्तर पर तेजी देखने को मिली। एक ही दिन के कारोबार में सोने के भाव में 1365 रुपये और चांदी की कीमत में 5972 रुपये तक का उछाल दर्ज किया गया। जानकार मान रहे हैं कि मौजूदा हालात में अभी सोने-चांदी के भाव और बढ़ेंगे।


नई दिल्ली (पीटीआई)। देश की राजधानी दिल्ली में सोने के भाव 1,365 रुपये उछल कर 56,181 रुपये प्रति 10 ग्राम के रिकाॅर्ड स्तर पर पहुंच गए। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के मुताबिक, मजबूत ग्लोबल रुख की वजह से सोने में यह तेजी देखने को मिली है। पिछले कारोबारी सत्र में सोने का सौदा 54,816 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुआ था। चांदी की कीमत भी 5,972 रुपये उछल कर 72,726 प्रति किलोग्राम के स्तर पर पहुंच गए। एक दिन पहले चांदी का कारोबार 66,754 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुआ था।कमजोर होते डाॅलर से सोना बढ़ा
एचडीएफसी सिक्योरिटीज में सीनियर कमोडिटी एनालिस्ट तपन पटेल ने कहा कि राजधानी दिल्ली में 24 कैरेट सोने के भाव 1,365 रुपये तक उछल गए। इसकी वजह इंटरनेशन सराफा बाजार में तेजी रही। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने के भाव उछल कर 2,032 डाॅलर प्रति औंस और चांदी की कीमत 26.40 डाॅलर प्रति औंस पहुंच गई। पटेल ने कहा कि कमजोर होते डाॅलर की वजह से अंतरराष्ट्रीय सराफा बाजार में तेजी आई है। निवेशकों में नाेवल कोरोना वायरस से गिरती अर्थव्यवस्था को लेकर चिंता है। रिलायंस सिक्योरिटीज में सीनियर रिसर्च एनालिस्ट श्रीराम अय्यर ने कहा कि इनवेस्टर अब भी सुरक्षित निवेश के तौर पर सोने में पैसे लगा रहे हैं।


सोना-चांदी में मिलता रहेगा लाभउनका मानना है कि कोविड-19 के दौर में जबकि वैश्विक अर्थव्यवस्था लड़खड़ा रही है, सोना-चांदी अच्छा रिटर्न देगा। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज में कमोडिटी और करेंसी हेड किशोर नरने ने कहा कि इस साल सोना और चांदी में बेहतर रिटर्न मिल रहा है। निवेशकों को सोने में 40 प्रतिशत और चांदी में 50 प्रतिशत का रिटर्न मिला है। उन्होंने कहा कि वैश्विक राजनीति में अस्थिरता और केंद्रीय बैंकों द्वारा बाजार में पैसे लगाने, कोरोना वायरस के संक्रमण लगातार बढ़ने, कोविड-19 की दूसरी लहर की आशंका और कारोबारी प्रतिद्वंद्विता के कारण उम्मीद है कि आगे भी इसमें लाभ मिलता रहेगा।

Posted By: Satyendra Kumar Singh
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.