पौधों की क्यारी सिखा रही जिम्मेदारी

2018-11-21T06:00:07Z

-जीआरपी में अनूठी पहल, शुरू हुआ कंप्टीशन

-हर विभाग के नाम से एलाट हुई भूमि लगे पौधे

GORAKHPUR: जीआरपी गोरखपुर अनुभाग में अधिकारियों, कर्मचारियों के नाम से सब्जी-फूलों की बगिया गुलजार होगी। जाड़े के मौसम में सभी कर्मचारियों को उनकी जिम्मेदारियों को याद दिलाने के लिए बागवानी की व्यवस्था की गई है। इससे जहां कैंपस की खूबसूरती बढ़ रही हैं। वहीं, अधिकारी और कर्मचारी अपने हिस्से में लगे फूल-पौधों को सबसे बढि़या उगाने की कोशिश में लगे हैं। जीआरपी गोरखपुर के सीओ श्रीप्रकाश राय ने बताया कि एसपी मैडम की पहल पर यह प्रयास हुआ है। इस कैंपस को संवारने की जिम्मेदारी सभी लोगों को सौंपी गई है।

कैंपस में चहल-पहल, कर्मचारियों में कंपटीशन

रेलवे स्टेशन से चंद कदम की दूरी पर स्थित एसपी जीआरपी गोरखपुर ऑफिस के कैंपस की साफ-सफाई चल रही है। साफ-सफाई के अलावा कैंपस में खाली पड़ी भूमि में फूल-सब्जियों को उगाने की तैयारी की गई है। कैंपस में क्यारियां बनाकर अनुभाग में तैनात एसपी से लेकर कार्यालय प्रमुख तक सबको अलग-अलग क्यारियां सौंप दी गई है। इन क्यारियों में फूलों के पौधों के लगाने से लेकर सब्जी तक उगाने की आजादी है। इसलिए कुछ दिनों से जीआरपी कर्मचारी कैंपस की सुंदरता बढ़ाने में लगे हैं। क्यारियां बनाकर सबने फूल-पौधे भी लगा दिए हैं जिनके देखभाल की जिम्मेदारी संबंधित सेक्शन के लोग निभा रहे हैं।

एसपी ने लगाए फूल, सीओ ने गोभी के पौधे

जीआरपी एसपी के ऑफिस के बगल में ही फूल-सब्जियों के पौधे लगाने के लिए क्यारियां बनाई गई है। इनके सामने संबंधित लोगों के नाम की तख्ती लगा दी गई है। कुछ दिनों पूर्व सभी लोगों ने अपने हिस्से की भूमि पर सब्जी और फूलों की विभिन्न प्रजातियों के पौधे लगाए हैं। एसपी जीआरपी के नाम से बनी क्यारी में फूल लगे हैं तो सीओ ने गोभी के पौधे लगाए हैं। इनके अलावा कार्यालय, दूसरे सर्किल के सीओ सहित अन्य पदाधिकारियों के नाम से पौधे लग चुके हैं। जीआरपी के लोगों का कहना है कि रोजाना ऑफिस आने के बाद सब लोग अपने-अपने हिस्से के पौधों की देखभाल करते हैं। फिर अपने काम में बिजी हो जाते हैं। कुछ दिनों के बाद जब फूल खिलेंगे तो कैंपस की खूबसूरती निखर जाएगी।

वर्जन

सभी लोग अपनी-अपनी क्यारियों में लगे पौधों की देखभाल करते हैं। इससे लोगों के भीतर जागरुकता आ रही है। एक-दूसरे से कंप्टीशन होने की वजह से लोग इस पर विशेष ध्यान दे रहे। एक अनूठी पहल है जिससे हम लोगों को कई चीजें सीखने को मिल रही हैं।

-श्रीप्रकाश राय, सीओ जीआरपी, गोररखपुर


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.