21 जोड़ों ने साथ-साथ लिए सात फेरे

2020-02-17T05:45:38Z

JAMSHEDPUR: मारवाड़ी युवा मंच स्टील सिटी शाखा और जूनियर चैंबर इंटरनेशनल (जेसीआइ) पहचान जमशेदपुर के संयुक्त तत्वावधान में पूर्वी सिंहभूम जिले के 21 ग्रामीण युवक-युवतियां रविवार को परिणय सूत्र में बंध गए। इसके लिए सामूहिक वैवाहिक कार्यक्रम बिष्टुपुर के राम मंदिर परिसर में हुआ। इसमें केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा भी शामिल हुए।

सबसे पहले सुबह ग्यारह बजे पर्यावरण संरक्षण का संदेश लिए बैंड-बाजा के सभी सभी दूल्हों की बरात बिष्टुपुर स्थित राम मंदिर से टोटो (बैटरी चालित ऑटो) में निकली। यह बरात बिष्टुपुर मेन रोड से घूमते हुए ट्रैफिक सिग्नल से होते हुए पुन: राममंदिर पहुंची। बरात में युवक-युवतियों के परिजन, रिश्तेदार, मारवाड़ी युवा मंच तथा कई मारवाड़ी समाज के सदस्य व समाजसेवी शामिल हुए। गाजे-बाजे व नाचते गाते बरात बिष्टुपुर राम मंदिर पहुंची। यहां बारात की आगवानी अरुण बांकरेवाल, चैंबर के पूर्व अध्यक्ष सुरेश सोंथालिया सहित बड़ी संख्या में उद्यमियों और समाजसेवियों ने किया। मुख्य समारोह का संचालन मोहित मूनका ने किया जबकि दोनों संस्थाओं की ओर से क्रमश: नितेश धूत, कविता धूत ने संबोधित किया।

इस दौरान पूर्व डीडीसी विश्वनाथ माहेश्वरी, ओमप्रकाश रिंगसिया, विजय आनंद मूनका, श्रवण मित्तल, चित्तरमल धूत, बजरंग लाल अग्रवाल, श्रवण देबुका, पवन शर्मा, राजेश मित्तल, विश्वनाथ नरेड़ी, भारत अग्रवाल, अरुण गुप्ता, जया डोकानिया, विश्वनाथ शर्मा, सांवर लाल अग्रवाल आदि मौजूद थे ।

---

मिले कई उपहार

जेसीआइ जमशेदपुर पहचान की अध्यक्ष कविता धूत ने बताया कि नवविवाहितों को उपहार स्वरूप आयोजक परिवार की तरफ से पलंग, गद्दा, तकिया-चादर, कंबल, दुल्हन के लिये वधू को पोशाक, साड़ी, आभूषण, मंगलसूत्र, सोने की नाक का कांटा, मेकअप किट, रसोई के बर्तन सहित दूल्हे का ड्रेस सहित कई जरूरी सामान प्रदान किये जाएंगे। बरात विदाई के समय लगभग 5 किलो लड्डू की टोकरी बतौर शगुन दी गई।

------------

एक लाख का हुआ बीमा, 30 हजार आएंगे खाते में

नवदम्पती को विदाई के समय न्यू इंडिया इंश्योरेंस के माध्यम से एक लाख रुपये का बीमा का पॉलिसी सर्टिफिकेट भी प्रदान किया गया। कुछ आवश्यक कागजी कार्रवाई करने के पश्चात नवदम्पती के बैंक अकाउंट में आगामी कुछ दिनों में तीस हजार रुपये आएंगे।

-------------

इनकी हुई शादी

सुकमन सरदार संग पूर्णिमा सरदार, करण सरदार संग अंकिता सरदार, शुकदेव प्रमाणिक संग पूर्णिमा बारिक, ऋतिक सरदार संग सुनीता सरदार, सुब्रत देबनाथ संग दुर्गा नाथ, सुरजीत देबनाथ संग रबीना नाथ, भगन मांझी संग पुड़ी टुडू, लक्ष्मीपद माला संग रेखा मदीना, तुषार पॉल संग डोली रानी भकत, प्रदीप भकत संग अंजलि भकत, समरेंद्र पूरन संग धनेश्वरी देव, काली प्रसाद महतो संग बंदना महतो, गुनाराम मंडी संग बहामनी मुर्मू, प्रदीप सरदार संग राखी सरदार, करो सोरेन संग फुलमणि मार्डी, प्रकाश चंद्र मार्डी संग अंजू बेसरा, बुशराम सांडिल संग मुस्कान लोहरा, निरंजन भकत संग सरस्वती भकत, कुलदीप सरदार संग शकुंतला सिंह, सुरेंद्र नापित संग सुष्मिता बारीक, लखीपद भकत संग कुमारी अंजलि भकत आदि 21 जोड़ों ने एक दूसरे के संग सात-फेरे लिए।

---------------

इन्होंने किया था सहयोग

राजेश अग्रवाल, रंजना गांधी, प्रशांत सोनी, रामनीत, अभिषेक चाचरा, हितेश अडेसरा, कुणाल, शीबा राकीसिन्हा, शालिजा सिंह, मेसर्स जैन ऑटोमोबाइल्स, सबिता चतरथ, मोनिका चतरथ, जास्मिन अडेसरा, पूरनमल अग्रवाल, तारा देवी मावंडिया आदि ने उपहारों को प्रायोजित किया था जबकि आर्थिक दानदाता के रूप में अशोक भालोटिया, दिलीप मुरारका, गोविंद नागेलिया, सनोज कुमार सिन्हा, विजय अग्रवाल, अरुण बांकरेवाल, निर्मल काबरा, मनोज शर्मा, सुशील खोवावाला, द्रौपदी केवलका, अशोक गुप्ता, जयश्री सिन्हा, महिला मंडल सुंदरनगर, आशु सचदेवा, विकास रश्मि सिंह, मुकेश लूथरा आदि रहे। कार्यक्रम के अंत में सबको दुपट्टा ओढ़ाकर तुलसी पौधे का गमला और एक मोमेंटो बतौर स्मृति चिह्न प्रदान किया गया।

--------------

इनका रहा सक्रिय योगदान

सामूहिक वैवाहिक कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मंच की तरफ से संयोजक पंकज संघी, पीयूष चौधरी, मनीष बंसल, मुकेश अग्रवाल, शंकर अग्रवाल, जबकि जेसीआइ पहचान की तरफ से मोनिका बांकरेवाल, अनीसा केवलका, प्रेरणा धूत चौधरी, रिंकू अग्रवाल, संगीता काबरा, पायल, सीमा, पूजा मोदी, अंजू मोदी, दिव्या अग्रवाल, स्वाति अग्रवाल, आकांक्षा धूत आदि सक्रिय रहे।

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.