शहीदी दिवस पर सजा विशेष दीवान

2018-12-24T06:00:55Z

RANCHI: गुरुद्वारा श्री गुरु नानक सत्संग सभा द्वारा रविवार को शहीदी दिवस के उपलक्ष्य में दूसरे दिन सुबह दीवान सजाया गया। कृष्णा नगर कॉलोनी स्थित गुरुद्वारा साहिब में सजाए गए दीवान की शुरुआत सुबह 10 बजे स्त्री सत्संग सभा की शीतल मुंजाल द्वारा शबद गायन से की गई। दो दिवसीय समागम में विशेष रूप से पधारे सिख पंथ के महान रागी जत्था भाई सरबजीत सिंह जी ने एक के बाद एक शबद गायन कर श्रद्धालुओं को भाव विह्वल कर दिया। सिख पंथ के महान कथा वाचक भाई बलविंदर सिंह जी देहरादून वाले ने कथावाचन कर कहा कि गुरुजी ने नाम,दान और स्नान कहा है अथार्त नाम से आशय वाहेगुरु का सिमरन करना, दान से आशय दुनिया से संवाद करना और स्नान मतलब अपने अंदर की बुराइयों को धोना।

बलिदान दिवस पर शोभायात्रा

स्वामी श्रद्धानंद सरस्वती का 92वां बलिदान दिवस एवं आर्य समाज मंदिर, अपर बाज़ार, स्वामी श्रद्धानन्द पथ पर 124 वें वार्षिकोत्सव का शुभारंभ सुबह 7 बजे हवन यज्ञ के साथ हुआ। 9 बजे भव्य शोभायात्रा आर्य समाज मंदिर से फि रायालाल चौक, डेलीमार्केट, पुस्तक पथ, अपर बाज़ार होते हुए निकाली गई। इसमें नगर के डीएवी पब्लिक स्कूलों के लगभग 500 स्टूडेंट्स, टीचर्स, प्रिंसिपल्स, आर्य समाज के पदाधिकारी शामिल हुए। मौके पर मुख्य रूप से एसके सिन्हा प्राचार्य डीएवी पब्लिक स्कूल गांधीनगर, एसके मिश्रा प्राचार्य डीएवी नीरजा सहाय कांके, तनुजा पाणिग्रही प्राचार्या डीएवी पब्लिक स्कूल पुंदाग, राजश्री मिश्रा, आशीष कुमार मौजूद थे।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.