ट्रेडिशनल फूड की भी बच्चों में डाले हैबिट

2020-02-24T05:46:18Z

सेमिनार में एक्सप‌र्ट्स ने पैरेंट्स को दिए टिप्स

इमामी हेल्दी एंड टेस्टी प्रजेंट्स हेल्दी फूड, हेल्दी स्कूल एक्टिविटी के तहत रविवार को गंगा बाल विद्या मंदिर, रसूलाबाद व एमवी इंटर कॉलेज सुलेम सराय में पैरेंटिंग सेमिनार का आयोजन किया गया। इसमें एक्सप‌र्ट्स ने पैरेंट्स को हेल्दी फूड तैयार करने और उससे होने वाले फायदे के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि बेहतर क्वॉलिटी के ऑयल से बना भोजन दिल और दिमाग दोनों को हेल्दी रखता है। इस दौरान चीफ शेफ ने पैरेंट्स को गाइड किया कि फूड किस तरह से प्रिपेयर करें कि टेस्ट के साथ हेल्थ भी मेंटेन रहे।

फूड प्रिपेयर करने का सही तरीका

सेमिनार में प्रयागराज इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग टेक्नोलॉजी के शेफ और डायटीशियन उपस्थित रहे। चीफ शेफ स्नेहा सक्सेना ने पीपीटी के माध्यम से पैरेंट्स को ढेरों जानकारियां दीं। उन्होंने फूड में मौजूद डिफरेंट एलीमेंट्स के बारे में भी बताया। उन्होंने बताया कि खाने को इस तरह से पकाएं कि इसकी न्यूट्रीशनल वैल्यू मेंटेन रहे। साथ ही उन्होंने बच्चों में हेल्दी ब्रेकफास्ट की हैबिट डालने पर भी जोर दिया। कहा कि कई घंटे सोने के बाद शरीर को सुबह प्रोटीन की जरूरत होती है।

ट्रैडिशनल फूड की तरफ लौटें पैरेंट्स

इस मौके पर बोलते हुए चीफ सेफ ने कहा कि पहले के समय में बच्चों को रात की बची हुई रोटी का चूरमा बनाकर नाश्ते में खाने को दिया जाता था। बताया कि पैरेंट्स रोटी के टुकड़े करके उसमें घी और गुड़ मिलाकर देते थे। यह काफी हेल्दी होता था। वहीं दही-चिउड़ा जैसे दूसरे फूड्स भी थे जो टेस्टी भी थे और हेल्दी भी। वहीं बतौर डायटीशियन मौजूद रहे शशांक सक्सेना ने अच्छे कुकिंग ऑयल यूज करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि खाना मस्टर्ड ऑयल में बनाया जाना चाहिए। यह स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा होता है।

पैरेंट्स को मिले अट्रैक्टिव गिफ्ट्स

सेमिनार के दौरान पैरेंट्स ने भी अपनी क्वैरीज को लेकर एक्सप‌र्ट्स से ढेरों सवाल पूछे। एक्सप‌र्ट्स ने भी सभी सवालों का जवाब देकर पैरेंट्स को सैटिस्फाई किया। क्वेश्चन-आंसर सेशन के बाद लकी ड्रॉ का आयोजन किया गया। इसमें पांच लकी पैरेंट्स को पांच लीटर का इमामी मस्टर्ड ऑयल का जार मिला।

इनका रहा सहयोग

- पूजा द्विवेदी निदेशिका, अमित द्विवेदी प्रबंधक, विजय शंकर त्रिपाठी प्रिंसिपल, प्रेम नारायण मित्र वाइस प्रिंसिपल, राकेश चंद्र त्रिपाठी, प्रकाश चंद्र शर्मा संयोजक, रत्‍‌नेश चंद्र पांडेय कार्यक्रम संयोजक, गंगा बाल विद्या मंदिर, रसूलाबाद, तेलियरगंज, प्रयागराज

सेमीनार में इन्होंने दिए टिप्स

- चीफ शेफ स्नेहा सक्सेना

- डायटीशियन मनुराधा

-शशांक सक्सेना, चैयरमैन, प्रयागराज इंस्टीट्यूट आफ होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग टेक्नोलॉजी

- विनीत पाल, डायरेक्टर प्रयागराज इंस्टीट्यूट आफ होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग टेक्नोलॉजी

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.