Happy Birthday: इसलिए सुर्खियों में रहेंगे अनिल कुंबले, ऐसा रहेगा आने वाला वर्ष

2018-10-17T07:30:31Z

अनिल कुंबले आज अपना 48वां जन्मदिन मना रहे हैं। ज्योतिषाचार्य चक्रपाणि भट्ट अंक ज्योतिष के आधार पर बता रहे हैं कि कुंबले के लिए अगला वर्ष कैसा रहेगा।

दिल्ली के फ़िरोज़शाह कोटला मैदान पर एक ही इनिंग में 10 विकेट लेकर विश्व रिकॉर्ड स्थापित करने वाले लेग स्पिनर और जंबो नाम से जाने जाने वाले अनिल कुंबले आज अपना 48वां जन्मदिन मना रहे हैं। उनका जन्म बेंगलुरू में 17 अक्टूबर, 1970 में हुआ, जिसका यौगिक अंक 26 तथा एकल अंक 8 है।

सामाजिक स्तर पर रहेगा 'जंबो' का वर्चस्व

अंक ज्योतिष के फलादेशानुसार, 8 शनि ग्रह का प्रतीक है। 15 अप्रैल 2019 तक ग्रह मंडल का राजा सूर्य तथा मन्त्री शनि हैं। आगामी अप्रैल 2019 से अप्रैल 2020 तक शनि राजा रहेगा, जो अनिल कुंबले को भौतिक परेशानियों का शिकार बना सकता है किन्तु शनि के भाग्य स्थान को देखे जाने के कारण कार्य क्षेत्र एवं सामाजिक स्तर पर इनका वर्चस्व बना रहेगा।

बेवजह अलोचना के हो सकते हैं शिकार


स्वक्षेत्र में सहयोगियों के मध्य अनर्गल आलोचना के शिकार हो सकते हैं। मन में अनेक प्रकार के नकारात्मक विचार जन्म लेंगे, जबकि ऐसा है नहीं। मूलतः इस अंक के जातक सुदृढ़ व्यक्तित्व के स्वामी होते हैं। जीवन के क्षेत्र में प्रत्येक भूमिका को चुनौती के रूप में निभाते हैं, जिसमें ये सफल भी होते हैं। यह ज़रूर है कि कार्य के आधार पर इनका आंकलन नहीं हो पाता, जिसके कारण ये हठधर्मी प्रवृत्ति के हो जाते हैं। इस अंक वाले जातक कर्म को भाग्य के साथ जोड़कर देखने के आदी होते हैं।

थोड़ा रहें सावधान

ऐसे व्यक्ति जिस कार्य को अपने हाथ में लेते हैं, उसे अनेक कुतर्कों-विरोध के बावजूद पूरा करते हैं। इसी कारण अनायास अनेक शत्रु उत्पन्न हो जाते हैं। कुंबले आमतौर पर शान्त प्रकृति के, दिखावे से दूर रहने वाले व्यक्तित्व के स्वामी हैं।

टीम इंडिया के चयन समिति में महत्वपूर्ण स्थान


आगामी वर्ष इनके लिए मध्यममार्गी नहीं अपितु आर-पार वाला होगा। आने वाला वर्ष कुंबले का उचित आंकलन करेगा, जिसके कारण ये प्रतिष्ठा पाएंगे और सुर्ख़ियों में रहेंगे। शनि पंचम भाव को दृष्ट कर रहा है, जो इन्हें संतान के स्वास्थ्य को लेकर चिन्तित कर सकता है। सूर्य-शनि के परस्पर अंतर्विरोध के बावजूद आगामी वर्ष में अनिल कुंबले को कोई बहुत गम्भीर एवं श्रेष्ठ सामाजिक या सरकारी ज़िम्मेदारी प्राप्त हो सकती है। उन्हें टीम इंडिया के चयन समिति में महत्वपूर्ण स्थान मिल सकता है या फिर वे टीम इंडिया के कोच बन सकते हैं।

व्यावहारिक दृष्टिकोण से देखा जाय तो आठ का अंक भाग्यशाली नहीं माना जाता किंतु वर्तमान ग्रह-गोचर के अनुसार, मंगल की राशि में विचरण करने वाला शनि इन्हें उच्च्स्थ पद प्रदान कर रहा है। इस अंक के व्यक्ति जन्मभूमि के प्रति महान बलिदान देने के लिए प्रायः तैयार रहते हैं।

इन तारीखों को करें​ विशेष काम


आगामी वर्ष में ध्यातव्य-जन्मांक के आठ अंकधारी कुंबले को चाहिए कि वे किसी भी माह की 8, 17 और 26 तारीख़ों में ही अपनी किसी योजना को कार्यरूप प्रदान करें, सर्वथा सफल रहेंगे। कुल मिलाकर आगामी वर्ष में कुछ कटु अनुभवों से गुज़रने के बावजूद अनिल कुंबले उच्च पद की ओर तीव्र गति से शनि की कृपा से अग्रसर हैं, जहां इन्हें दिव्यता की प्राप्ति होने वाली है।

लकी दिन- बुध और शनि।

लकी रंग- काला, गहरा नीला और जामुनी शेड्स।

लकी रत्न- नीलमणि, काला मोती और काला हीरा।

— ज्योतिषाचार्य चक्रपाणि भट्ट

ओवल है वो मैदान जहां सचिन नहीं इस भारतीय गेंदबाज के बल्ले से निकला है शतक

चाहकर भी वकार यूनुस नहीं रोक पाए कुंबले को, कारनामा जो विश्व क्रिकेट में सिर्फ दो बार हुआ

Posted By: Kartikeya Tiwari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.