Happy Birthday: गौतम गंभीर क्रिकेटर से बन सकते हैं नेता, ऐसा रहेगा आने वाला साल

2018-10-14T07:10:00Z

क्रिकेटर गौतम गंभीर आज अपना 37वां जन्मदिन मना रहे हैं। उनका जन्म 14 अक्टूबर 1981 दिन शनिवार को नई दिल्ली में हुआ था। ज्योतिषाचार्य चक्रपाणि भट्ट बता रहे हैं कि गौतम गंभीर का आने वाला वर्ष कैसा रहेगा।

क्रिकेटर गौतम गंभीर आज अपना 37वां जन्मदिन मना रहे हैं। उनका जन्म 14 अक्टूबर, 1981 दिन शनिवार को नई दिल्ली में हुआ था। इनके नाम के प्रत्येक अंग्रेजी वर्ण के यौगिक अंक 37 प्राप्त होते हैं, जो एक की संख्या को दर्शाता है। यह अंक जीवन के प्रारम्भ में अनेक संघर्ष कराता है, किंतु संघर्ष के बाद अनुभवजन्य ज्ञान का प्रतीक भी है। यह अंक बढ़ती हुई उम्र के साथ अति उच्च अवस्था में पहुंचा देता है।

तारीख, माह और सन जोड़ने पर यौगिक अंक पच्चीस अर्थात् सात की संख्या प्राप्त होती है। सात की संख्या नीचे से ऊपर की ओर जाकर फैलने वाली संख्या मानी गई है। इनकी पांच एवं सात की संख्या बुध-सूर्य का बुधादित्य योग बनाती है। इस अंक के व्यक्ति गुण स्वभाव से चंचल एवं अस्थिर चित्त के होते हैं, स्पष्टवादिता इनका विशिष्ट गुण है। स्वभावत: गौतम गंभीर मित्रों के प्रति अतिसहिष्णु हैं।

जीवन में चमत्कारिक परिवर्तन के योग


अंक ज्योतिष के अनुसार, जीवन के 36वें वर्ष से लेकर48वें वर्ष की अवस्था तक गौतम गंभीर में नेतृत्व की अद्भुत क्षमता उत्पन्न होगी। इनका आगामी वर्ष निःसंदेह चुंबकीय व्यक्तित्व से भरा होगा। राजनीतिक विचारधारा प्रबल होगी। आने वाला वर्ष जीवन में चमत्कारिक परिवर्तन लेकर आएगा।

राजनीति में आने का योग, मिलेगी सफलता

इस समय सूर्य उच्च भाव में होकर भविष्य को सीधा प्रभावित कर रहा है। सूर्य-बुध-चन्द्रमा का त्रिकोण योग 28 दिसंबर 2018 से 29 अगस्त 2019 के मध्य गौतम गंभीर को स्वक्षेत्र के साथ तीव्र राजनीतिक लाभ मिल सकता है।यदि राजनीति में आते हैं, जैसा कि योग बन रहा है, तो अति सफल रहेंगे।

विदेशी टीम के कोच बनने की संभावना


साथ ही यह बताते चलें कि वारुणी-योग होने के कारण कोई आश्चर्य नहीं कि किसी दूसरे देश में उन्हें कोच का अवसर प्राप्त हो जाए। वरुण का सीधा संबंध चन्द्रमा से है, जो सुदूर देश में सम्मानित पद-प्रतिष्ठा दिलाता है।

क्रोध पर नियंत्रण रखें

अक्टूबर माह की 14तारीख को जन्मे जातक भीतर और बाहर से स्पष्ट व्यक्तित्व के होने के कारण कभी-कभी क्रोध में अपनी बहुत बड़ी हानि कर बैठते हैं। अत: इस भाव पर नियंत्रण आवश्यक है।

लकी दिन- बुध एवं शुक्रवार।

लकी रत्न- प्लैटिनम में जड़ा हीरा अति लाभप्रद होगा।

लकी रंग- आमतौर पर गहरे रंग से बचें तथा हल्के रंगों का ही प्रयोग करें। सफ़ेद,गुलाबी,समुद्री रंग उन्नति में सहायक होगा।

— ज्योतिषाचार्य चक्रपाणि भट्ट

सिनेमाघर में राष्ट्रगीत बजने का विरोध करने वालों को गंभीर का जवाब, बंद की बोलती

गौतम गंभीर ने जीता दिल, यह क्रिकेट सितारे भी दूसरों की मदद करने में आगे

 

 


Posted By: Kartikeya Tiwari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.