डाॅ. हर्षवर्धन ने वैक्सीन से जुड़ी झिझक हटाने के लिए जारी किए पोस्टर कहा, कोविड के ताबूत में ठोक रहें आखिरी कील

देश में चल रहे कोरोना वायरस वैक्सीन को लेकर कई लोगों में झिझक है। ऐसे में उनकी झिझक को दूर करने करने के लिए डाॅ. हर्षवर्धन ने गुरुवार को कुछ पोस्टर रिलीज किए हैं। इसके साथ ही कहा कि अब हम कोविड के ताबूत में आखिरी कील ठोक रहे हैं।

Updated Date: Thu, 21 Jan 2021 03:26 PM (IST)

नई दिल्ली (एएनआई)। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने गुरुवार को स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा कोविड-19 वैक्सीन हेजिटेशन (झिझक) से संबंधित मुद्दों के समाधान के लिए तैयार किए गए पोस्टर जारी किए। केंद्रीय मंत्री ने लोगों से इन पोस्टरों का विवेकपूर्ण उपयोग करने और इसे एक व्यापक अभियान बनाने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि यह टीकाकरण अभियान स्वास्थ्य क्षेत्र के दर्पण के रूप में काम कर रहा है। अतीत में भारत चेचक और पोलियो जैसी घातक बीमारियों को दूर करने में सफल रहा है। इसी तरह मेरा मानना ​​है कि अब हम कोविड के ताबूत में आखिरी कील ठोक रहे हैं।

Appreciate @MoHFW_INDIA for their initiative to help address issues related to vaccine hesitancy.
I'll be releasing some creatives prepared in this regard at 10:45 AM, today.
Watch Live!
🔹https://t.co/zsWCYml5dJ
🔸https://t.co/fJImeR9axx
🔹https://t.co/OPeFB5gIQZ pic.twitter.com/hcK5gHszVQ

— Dr Harsh Vardhan (@drharshvardhan) January 21, 2021


जनवरी में, मेरा मानना ​​है कि हमने कुछ संतोषजनक काम किया
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने पोस्टर का पूरा बंच जारी करते हुए कहा, इस साल जनवरी के महीने में, मेरा मानना ​​है कि हमने कुछ संतोषजनक काम किया है। सभी डॉक्टरों और फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं ने बिना किसी लापरवाही के अपने मरीजों की सुरक्षा के लिए लगातार काम किया है।

The vaccination will be the last nail in the coffin of COVID19. It is unfortunate that some people are spreading misinformation about the vaccination for political reasons. This has developed vaccine hesitancy in a small group of people: Union Health Minister Harsh Vardhan https://t.co/8n0tXU6ylB

— ANI (@ANI) January 21, 2021
कथित दुष्प्रभाव किसी भी टीकाकरण प्रक्रिया के लिए हैं सामान्य
मंत्री ने डॉक्टरों, वैज्ञानिक और चिकित्सा विशेषज्ञों की टीम को धन्यवाद दिया और कहा, टीके- कोवैक्सीन और कोविशिल्ड उपयोग करने के लिए सुरक्षित हैं। वहीं कथित दुष्प्रभाव किसी भी टीकाकरण प्रक्रिया के लिए सामान्य हैं। उन्होंने कोविड-19 दिशानिर्देशों का पालन करने की सलाह दी है।

Posted By: Shweta Mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.