जानें कब खेला गया था पहला डे-नाइट टेस्ट, अब तक कितनी टीमें खेल चुकी हैं ऐसे मुकाबले

Updated Date: Wed, 30 Oct 2019 01:54 PM (IST)

भारत में पहली बार डे-नाइट टेस्ट मैच का आयोजन हो रहा है। भारत बनाम बांग्लादेश के बीच नवंबर में होने वाली दो मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा मुकाबला ईडन गार्डन में होगा जोकि डे-नाइट टेस्ट होगा। आइए जानें पहला डे-नाइट टेस्ट मैच कब खेला गया था...

कानपुर। क्रिकेट में कई नियम बनाए और हटाए गए, मगर कुछ नियम ऐसे होते हैं जो इतिहास के पन्नों में दर्ज हो जाते। चार साल पहले 27 नवंबर को ही क्रिकेट मैदान पर ऐसा ही कुछ अलग देखने को मिला था जिसकी कल्पना शायद किसी ने नहीं की थी। ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की टीमों के बीच 142 साल के टेस्ट इतिहास में पहली बार डे-नाइट टेस्ट मैच खेला गया। यह मैच एडीलेड में आयोजित किया गया था। यही नहीं इस टेस्ट में लाल की बजाए गुलाबी रंग की गेंद इस्तेमाल की गई थी। क्रिकेट में यह परिवर्तन इसलिए किया गया था ताकि टेस्ट क्रिकेट में दर्शकों की रुचि बढ़ाई जा सके।
47 हजार लोग देखने आए था पहला डे-नाइट टेस्ट
एडीलेड ओवल में खेला गया पहला डे-नाइट टेस्ट काफी खास था। इसे देखने के लिए कुल 47,441 दर्शक स्टेडियम आए थे। यह मुकाबला बल्लेबाजों के लिए नहीं बल्कि गेंदबाजों के लिए याद किया जाता है। इस मैच में गेंदबाजों ने धड़ाधड़ विकेट गिराए थे। उस वक्त न्यूजीलैंड टीम की कमान ब्रेंडन मैक्कुलम के हाथों में थी। मैक्कुलम ने टाॅस जीतकर पहले बैटिंग का निर्णय लिया। पूरी कीवी टीम पहले दिन के खेल समाप्ति से पहले ही 202 रन पर सिमट गई। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से मिचेल स्टाॅर्क और जोश हेजलवुड ने 3-3 विकेट लिए वहीं पीटर सिडल और नाॅथन लाॅयन ने 2-2 विकेट चटकाए।

#OnThisDay in 2015, the first ever day/night Test match began.
That match was contested by Australia and New Zealand in Adelaide. pic.twitter.com/gADmRuKqKK

— ICC (@ICC) November 27, 2018


पिच पर ज्यादा देर टिक नहीं पाए बल्लेबाज

न्यूजीलैंड को सस्ते में आउट करने के बाद कंगारुओं को लगा कि वह बड़ा स्कोर खड़ा कर मेहमानों पर दबाव बना लेंगे। मगर ऐसा नहीं हुआ, कीवी गेंदबाजों के आगे ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज भी ज्यादा देर तक क्रीज पर टिक नहीं पाए। न्यूजीलैंड ने पूरी कंगारु टीम को 224 रन पर समेट दिया था। उस वक्त कंगारु टीम की कमान स्टीव स्मिथ के हाथों में थी जिन्होंने 53 रन बनाए थे। इसके बाद न्यूजीलैंड की दूसरी पारी 208 रन पर सिमटी और अब ऑस्ट्रेलिया को मैच जीतने के लिए 187 रन का टारगेट मिला।
ऑस्ट्रेलिया ने तीन विकेट से मैच जीतकर रचा इतिहास
कीवियों द्वारा दिए 187 रन के टारगेट का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम को यह लक्ष्य पाने में काफी मशक्कत करनी पड़ी। टीम के सात विकेट गिर गए तब जाकर कंगारु टीम लक्ष्य तक पहुंच पाई। अंत में मेजबान ऑस्ट्रेलिया ने पहला डे-नाइट टेस्ट तीन विकेट से जीतकर इतिहास रच दिया। इसी के साथ ऑस्ट्रेलिया पहला टेस्ट, पहला डे-नाइट टेस्ट, पहला वनडे और पहला टी-20 जीतने वाली टीम बन गई।
कुल 11 डे-नाइट टेस्ट खेले गए
टेस्ट क्रिकेट इतिहास में अब तक कुल 11 डे-नाइट टेस्ट खेले गए।

Having won the first ever Test, ODI, day/night ODI and T20I, #OnThisDay in 2015, Australia won the first ever day/night Test, beating New Zealand by 3 wickets in Adelaide! pic.twitter.com/Oab6MMQZem

— ICC (@ICC) November 29, 2017


कितनी टीमों ने खेला है डे-नाइट टेस्ट
अभी तक कुल आठ टीमें डे-नाइट टेस्ट का हिस्सा रही हैं। इसमें ऑस्ट्रेलिया, श्रीलंका, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड, पाकिस्तान, साउथ अफ्रीका, वेस्टइंडीज और जिंबाब्वे शामिल हैं।
भारत का पहला डे-नाइट टेस्ट मैच
टेस्ट खेलने वाले सबसे पुराने देशों में भारत ही ऐसा है जिसने अभी तक डे-नाइट टेस्ट मैच नहीं खेला था। आपको बता दें बीसीसीआई इससे पहले डे-नाइट टेस्ट मैच का समर्थन नहीं करता था। जिसकी वजह से टीम इंडिया एक भी डे-नाइट टेस्ट नहीं खेल पाई। अब सौरव गांगुली के बीसीसीआई अध्यक्ष बनने के बाद कोलकाता में भारत को पहला डे-नाइट टेस्ट खेलना है।
छह देशों में खेले गए हैं ऐसे टेस्ट
डे-नाइट टेस्ट अब तक छह देशों में खेले गए हैं। इसमें ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, साउथ अफ्रीका, न्यूजीलैंड, बाराबडोस, दुबई के नाम शामिल हैं।

 

 

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.