हॉकी व‌र्ल्ड कप पहले ही मैच में 32 से हारी भारतीय टीम

2014-06-01T15:37:29Z

मैच के आखिरी पलों में अपने लचर खेल का प्रदर्शन भारतीय हॉकी टीम ने एक बार फिर दोहराया हॉकी व‌र्ल्ड कप में बेल्जियन के खिलाफ भारतीय टीम 32 से मैच हार गई

पुरानी आदत
लास्ट टाइम पर गोल गंवाने भारतीय हॉकी टीम की आदत हॉकी व‌र्ल्ड कप में बेल्जियम के खिलाफ टूर्नामेंट में अपने पहले मुकाबले में भी देखने को मिली. भारत के डिफेंडरो ने एक बार फिर मैच के आखिरी कुछ सेकेंडों में मैच में पकड़ ढीली कर दी. जिससे बेल्जियम की टीम ने मैच खत्म होने के 15 सेकेंड पहले गोल दागकर आज यहां हॉकी विश्व कप में 3-2 की जीत के साथ अपने सफर की शानदार शुरुआत की.


पानी फिर गया

बेल्जियम की टीम अंतिम मिनट के खेल से पहले 2-2 से बराबर होने के कारण हताश और दबाव में थी लेकिन भारतीय डिफेंडरों ने उन्हें मौका दे दिया. जान डोहमेन ने इस मौके का फायदा उठाते हुए अंतिम मिनट में गोल दागकर अपनी टीम की जीत पक्की कर दी. अंतिम मिनट में हुए इस गोल से दूसरे हाफ में भारत के अच्छे प्रदर्शन पर भी पानी फिर गया.

शानदार वापसी हुई बेकार

मैच की शुरु्आत में एक गोल से पिछडने के बाद भारतीय टीम ने दूसरे हाफ में वापसी करते हुए 2-1 से बढ़त बना ली थी. मैच का पहला गोल बेल्जियम की ओर से 34वें मिनट में फ्लोरेंट वान ओबेल ने दागा जिससे टीम मैच के पहले हॉफ तक 1-0 से आगे रही. मनदीप सिंह (45वें मिनट) और आकाशदीप सिंह (50वें मिनट) ने हालांकि एक एक मैदानी गोल दागते हुए भारत को 2-1 से आगे कर दिया. बेल्जियम ने सिमोन गोगनार्ड के 56वें मिनट में पेनल्टी कार्नर पर दागे गोल की मदद से बराबरी हासिल की जबकि डोहमेन ने अंतिम लम्हों में गोल दागकर भारत की उम्मीदों को तोड दिया.

नहीं उठा पाए पेनल्टी का फायदा

बेल्जियम टीम की बात करें तो इन्हें छह पेनल्टी कार्नर मिले लेकिन टीम सिर्फ एक को ही पेनल्टी को गोल में बदल पाई. भारतीय टीम को एकमात्र पेनल्टी कार्नर 66वें मिनट में मिला लेकिन रुपिंदर पाल सिंह की ड्रैग फ्लिक क्रास बार से टकराने के बाद बाहर चली गई. भारत का अब अगला मैच को सोमवार को इंग्लैंड से होगा.



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.