हॉर्टीकल्चर रोकेगा पलायन सीएम

2017-04-18T07:40:08Z

-वालनट फ्रूट ग्रोवर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष ने की सीएम से मुलाकात

राज्य में बनेगा वालनट एंड अदर नट डेवलपमेंट बोर्ड

>DEHRADUN: वालनट एंड अदर नट फ्रूट ग्रोवर्स एसोसिशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष केसी पांडे ने सोमवार को सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत से भेंट कर सूबे में अखरोट के विस्तार पर कई सुझाव दिए। बदले में सीएम ने कहा कि हॉर्टीकल्चर के जरिए राज्य के गांवों से पलायन को कम किया जा सकता है। पर्वतीय क्षेत्रों में अखरोट की काफी संभावनाएं हैं। सीएम ने कहा कि राज्य में अखरोट को प्रोत्साहित करने के लिए वानगई (वालनट एंड अदर नट फ्रूट ग्रोवर्स एसोसिशन ऑफ इंडिया) की मदद ली जाएगी। इसको लेकर सीएम ने मंगलवार को संबंधित अधिकारियों की बैठक भी बुलाई है। वानगई के अध्यक्ष केसी पांडे ने सीएम को सुझाव दिया कि वालनट एंड अदर नट डेवलपमेंट बोर्ड की उत्तराखंड में स्थापना हो। किसानों को अखरोट की अच्छी प्रजाति के कलमी पौधे उपलब्ध करवाए जाएं। अखरोट के प्रचार प्रसार के लिए सेपरेट बजट की व्यवस्था हो। पंतनगर व भरसार विवि में वालनट व बाकी नट पर रिसर्च को बढ़ावा मिले। हिल एरियाज में युवाओं को चिन्हित किया जाए व कागजी अखरोट के पौधे तैयार करने के लिए वेजीटेटिव प्रोपेगेशन ट्रेनिंग को बढ़ावा दिया जाए। वहीं केंद्र को अखरोट क्षेत्रफल विस्तार आदि के प्रस्ताव भेजे जाएं।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.