अफसर ने ली जिम्मेदारों की क्लास सुधरेगी मंडी

2015-04-09T07:01:52Z

-मंडी परिषद के उप निदेशक ने दिए निर्देश, जल्द से जल्द काम पूरे करें

-आई नेक्स्ट में खबर छपने के बाद जागा मंडी प्रशासन

GORAKHPUR: पूर्र्वाचल की सबसे बड़ी मंडी महेवा मंडी की बदहाली पर आई नेक्स्ट ने लगातार खबरें प्रकाशित की। हमने बदहाली पर लगातार खबरें पब्लिश की और मंडी समिति को आईना दिखाया। यह आई नेक्स्ट की खबरों का ही असर है कि बुधवार को मंडी परिषद के उप निदेशक (प्रशासन विपणन) ने महेवा मंडी के जिम्मेदारों को फटकार लगाई। उन्होंने निर्देश दिया कि जल्द से जल्द मंडी की व्यवस्था में सुधार लाया जाए। जहां कहीं कमियां हैं उसे तत्काल दूर किया जाए। उन्होंने यह भी मंडी में सफाई, स्वच्छ जल की व्यवस्था तत्काल कराने के निर्देश दिए। साथ ही जहां इंडिया मार्का हैंडपंप नहीं लगाए गए है, वहां तुरंत लगा दिया जाए।

भेजा गया प्रस्ताव

महेवा मंडी में जर्जर दुकानें, वाटर सप्लाई, वायरिंग-पोल और दुकानों के रंगाई पुताई के लिए प्रस्ताव बनाकर भेज दिगा गया है। मुख्यालय से पैसा स्वीकृत होते ही निर्माण कार्य शुरू किया जाएगा।

एक हफ्ते के अंदर लग जाएंगे हैंड पंप

मंडी में कुल चार हैंड पंप लगाए गए हैं अभी आठ और इंडिया मार्का हैंड पंप लगाए जाने हैं। बाकी हैण्ड पंप लगाने के लिए तत्काल आदेश जारी कर दिया गया है। एक हफ्ते के अंदर आठ और हैंड पंप लगाए जाएंगे।

वर्जन

मंडी में सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए नगर निगम से बात कर ली गई है, फल-सब्जी, आलू मंडी के सामने फैला कचरा साफ कराया गया है। मंडी में कारोबार करने वाले व्यापारियों की हर एक समस्याओं को जल्द से जल्द दूर करने का प्रयास किया जाएगा।

एमसी गंगवार, उप निदेशक, प्रशासन विपणन, डीडीए

दुकानों की मरम्मत, पेयजल के लिए डायरेक्टर स्तर पर बात की जा रही है। जल्द ही व्यापारियों को समस्या से निजात दिलाया जाएगा।

सुभाष यादव, मंडी सचिव


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.