ICC World Test Championship Points Table : जानिए ऑस्ट्रेलिया को क्यों मिले भारत से 64 अंक कम, जबकि दोनों ने जीते दो-दो मैच

2019-09-09T11:55:11Z

एशेज सीरीज का चौथा टेस्ट जीतने के साथ ही ऑस्ट्रेलिया टीम ने आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में दूसरा जीत हासिल कर ली है। भारत के बाद ऑस्ट्रेलिया दूसरी टीम है जिसको टेस्ट चैंपियनशिप टेबल में दो जीत मिली है। मगर इनके बीच अंकों के अंतर का फासला करीब 64 का है। आइए जानें क्या है वजह...

कानपुर। आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में भारत के बाद ऑस्ट्रेलिया दूसरी टीम है जिसने दो मैच जीत लिए। रविवार को कंगारुओं ने एशेज सीरीज के चौथे टेस्ट में इंग्लैंड को 185 रनों से हराकर आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में चौथा स्थान प्राप्त कर लिया। हालांकि अभी तक भारत और ऑस्ट्रेलिया ही दो टीमें हैं जिन्होंने टेस्ट चैंपियनशिप के तहत दो-दो टेस्ट जीते हैं मगर इनके अंकों में बड़ा फासला है। भारत के जहां 120 प्वाॅइंट हैं वहीं ऑस्ट्रेलिया के 56 अंक हैं। अब ऐसे में सवाल यह उठता है कि जब भारत और ऑस्ट्रेलियों दोनों ने दो-दो मैच जीते हैं तो इनके अंकों में इतना अंतर क्यों..

कैसे होता है अंको का बंटवारा
आईसीसी ने टेस्ट चैंपियनशिप के तहत अंकों को बंटवारा सीरीज के आधार पर किया है। इसमें दो मैचों की सीरीज से लेकर पांच मैचों की सीरीज तक टीमों को अलग-अलग अंक दिए जाएंगे। दो मैचों की टेस्ट सीरीज में प्रत्येक मैच की जीत पर 60 अंक दिए जाएंगे। वहीं टाई होने पर 30 अंक, ड्रा होने पर 20 अंक दिए जाएंगे। वहीं तीन मैचों की सीरीज में जीतने पर 40 अंक, टाई पर 20 अंक और ड्रा होने पर 13 अंक दिए जाएंगे। चार मैचों की सीरीज में जीतने पर 30 अंक, टाई पर 10 अंक और ड्रा होने पर 10 अंक दिए जाएंगे। वहीं आखिर में पांच मैचों की सीरीज में जीतने पर 24 अंक, टाई पर 12 अंक और ड्रा होने पर 8 अंक दिए जाएंगे।
इसलिए भारत-ऑस्ट्रेलिया के अंकों में अंतर
इस हिसाब से देखें तो भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज खेली थी, ऐसे में भारत को प्रत्येक जीत पर 60-60 अंक मिले और टीम इंडिया के कुल 120 प्वाॅइंट हो गए। वहीं ऑस्ट्रेलिया को एशेज सीरीज में पांच टेस्ट खेलने हैं जिसके चलते कंगारुओं को प्रत्येक जीत पर 24 अंक मिले। कंगारुओं ने एशेज में दो जीत और एक ड्रा खेला इस हिसाब से ऑस्ट्रेलिया के अब तक कुल 56 अंक हुए।

टीममैचजीतहारटाई/ड्रा/बेनतीजाअंक
भारत2200120
न्यूजीलैंड211060
श्रीलंका211060
ऑस्ट्रेलिया421156
इंग्लैंड412132
वेस्टइंडीज20200
साउथ अफ्रीका00000
बांग्लादेश00000
पाकिस्तान00000
Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.