चक्रवात 'वायु' की बदल रही दिशा अगले 48 घंटों में कच्छ तट से टकरा सकता

2019-06-15T16:06:02Z

चक्रवाती तूफान वायु को लेकर मौसम विभाग का कहना है कि इसने अपनी दिशा बदल दी है। यह अगले 48 घंटे में कच्छ तट से टकरा सकता है।

अहमदाबाद (एएनआई)। अरब सागर में बने लो प्रेशर के बाद उठे चक्रवाती तूफान वायु का खतरा अभी टला नही है। भले ही वायु 13 जून को गुजरात से नहीं टकराया लेकिन माैसम वैज्ञानिकों की मानें तो चक्रवात वायु की दिशा बदल रही है। इसके पीछे मुड़कर आने के संकेत मिल रहे हैं। इस सबंध में मौसम विभाग के निदेशक जयंत सरकार का कहना है कि चक्रवात वायु पश्चिम की ओर बढ़ रहा है और 17 से 18 जून के बीच कच्छ तट से टकरा सकता है।
साैराष्ट्र आदि में कुछ घंटे भारी बारिश भी हो सकती

वायु चक्रवात के टकराने की वजह से कच्छ और उसके आसपास के इलाकों जैसे साैराष्ट्र आदि में कुछ घंटे भारी बारिश भी हो सकती है। हालांकि इन क्षेत्रों में हवा की गति बहुत मजबूत नहीं होगी।  आईएमडी ने इस दाैरान यह भी कहा है कि अब तक मिल रहे संकेतों से साफ है कि चक्रवात जिन क्षेत्रों में आएगा वहां ज्यादा नुकसान नहीं होगा। चक्रवात वायु के 18 जून को उत्तर गुजरात की ओर बढ़ेगा। इस दाैरान इसके कमजोर पड़ने की उम्मीद नजर आ रही है।
चक्रवात 'वायु' ने बदला रास्ता लेकिन गुजरात में राहत नहीं, ट्रेनें-उड़ानें रद व सुरक्षित स्थान पर पहुंचाए गए 3 लाख लोग
मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई

इस दाैरान जूनागढ़ और पोरबंदर के रूप में हल्की से मध्यम बारिश जारी रहेगी। आईएमडी ने मछुआरों को अगले कुछ दिनों तक समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी है। भारतीय तटरक्षक बल, नौसेना, राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल और राज्य के अधिकारी हाई अलर्ट पर हैं। सेना की टीमों को स्टैंड पर रखा गया है। बता दें कि वायु तूफान बीते गुरुवार को गुजरात तट से टकराना था, लेकिन बुधवार और गुरुवार की रात को वायु का रास्ता ही बदल गया था।



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.