आर्थिक तंगी से जूझ रहे पाकिस्तान को आखिरकार मिला आईएमएफ का सहारा मिली 6 अरब डॉलर कर्ज की मंजूरी

2019-07-04T11:20:51Z

आर्थिक तंगी से जूझ रहे पाकिस्तान को आखिरकार आईएमएफ का सहारा मिल ही गया है। उसे अंतराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने 6 अरब डॉलर के कर्ज को मंजूरी दे दी है।

पाकिस्तान (पीटीआई)। पाकिस्तान के आर्थिक तंगी को दूर करने के लिए आईएमएफ ने बुधवार को तीन साल की अवधि के लिए उसे 6 बिलियन डॉलर के लोन को मंजूरी दे दी है। इस बात की जानकारी आईएमएफ के प्रवक्ता गेरी राइस ने एक ट्वीट के जरिये दी। इसका साथ उन्होंने यह भी बताया कि इसका उद्देश्य देश की खराब अर्थव्यवस्था में स्थायी विकास लौटाना और जीवन स्तर में सुधार लाना है। बता दें कि पाकिस्तान के वित्त मंत्रालय ने कर्ज के लिए अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) से अगस्त 2018 में अनुरोध किया था, तब इमरान खान ने पाकिस्तान में सत्ता संभाली थी।
प्रधानमंत्री बनने के बाद पहली बार अमेरिका के दौरे पर जायेंगे पीएम इमरान खान, संबंध सुधारने की करेंगे कोशिश


इमरान ने बदल दी थी पूरी टीम
पाकिस्तान ने पिछले महीने मैराथन वार्ता के बाद बेलआउट पैकेज पर IMF के साथ एक समझौता किया था। खान ने वित्त मंत्री, स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान (एसबीपी) के प्रमुख और फेडरल ब्यूरो ऑफ रेवेन्यू (एफबीआर) के प्रमुख सहित पूरी फाइनेंसियल टीम को अर्थव्यवस्था में सुधार करने में विफलता के लिए बदल दिया था। बता दें कि पाकिस्तान 1950 में आईएमएफ का सदस्य बना था, तब से लेकर अब तक वह 22 बार कर्ज ले चुका है। आईएमएफ के अलावा पाकिस्तान को हाल ही में चीन, सऊदी अरब और यूएई जैसे मित्र देशों से आर्थिक मदद मिली है। पिछले महीने, पाकिस्तान ने कतर से 3 बिलियन डॉलर का कर्ज हासिल किया था।



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.